नई दिल्ली : जोहोर बाहरू शहर में छह अक्टूबर से शुरू होने वाले सुल्तान ऑफ जोहोर कप के आठवें संस्करण में भाग लेने के लिए भारत की जूनियर पुरुष हॉकी टीम बुधवार को बेंगलुरू से मलेशिया के लिए रवाना हुई. हॉकी इंडिया के अनुसार, इस टूर्नामेंट के जरिए 10 भारतीय खिलाड़ी पहली बार अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खेलेंगे. Also Read - ICC Rankings: इंग्लैंड को पछाड़ वनडे में नंबर-1 टीम बनी न्यूजीलैंड; नीचे खिसकी टीम इंडिया

भारतीय टीम ने पिछले संस्करण में कांस्य पदक पर कब्जा किया था. टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन करने वाले मिडफील्डर विवेक सागर प्रसाद और फारवर्ड दिलप्रीत सिंह को जल्द ही सीनियर टीम में शामिल कर लिया गया था. Also Read - ICC ODI Rankings: न्‍यूजीलैंड बनी नई चैंपियन, तीसरे स्‍थान पर खिसका भारत, इंग्‍लैंड को सबसे ज्‍यादा नुकसान

टीम के कोच जूड फेलिक्स ने कहा, “पिछले साल भी हम नई टीम लेकर गए थे और लगभग सभी खिलाड़ी पहली बार किसी अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंट में भाग ले रहे थे. जब टूर्नामेंट आगे बढ़ा तो मुझे महसूस हुआ कि हम फाइनल तक पहुंच सकते थे और कांस्य पदक जीतना निराशाजनक रहा. हालांकि, इस संस्करण में जब 10 खिलाड़ी पहली बार अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंट में हिस्सा ले रहे हैं, हम उन आठ खिलाड़ियों का अधिक जिम्मेदारियां देंगे जिन्हें पिछले साल खेलने का अनुभव है और वह कुछ अन्य अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंट में भी खेले चुके हैं.” Also Read - हॉकी अंपायर मैनेजर वीरेंद्र सिंह की कोविड के कारण मौत

भारत के कप्तान मंदीप मोर होंगे. वहीं उपकप्तान शिलानंद लकारा को बनाया गया है. टीम का पहला मैच मेजबान मलेशिया के खिलाफ होगा.