पाकिस्‍तान में खेली जा रही वर्ल्‍ड कबड्डी चैंपियनशिप (World Kabaddi Championship) के लिए भारतीय खिलाड़ियों का एक दल सोमवार को पाकिस्‍तान पहुंच गया, जिसे लेकर विवाद पैदा हो गया है. मामला बढ़ता देख इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) का बयान भी सामने आ गया है. आईओए का कहना है कि उन्‍होंने इस टूर्नामेंट के लिए किसी भी कबड्डी टीम को पाकिस्तान दौरे की मंजूरी नहीं दी है.

पढ़ें:- टी20 विश्व कप के लिए युजवेंद्र चहल ही होंगे पहली पसंद: हरभजन सिंह

वर्ल्‍ड कबड्डी चैंपियनशिप में भाग लेने के लिये भारत से एक दल शनिवार को वाघा बार्डर के माध्‍यम से लाहौर पहुंच गया था. पहली बार इस टूर्नामेंट का आयोजन पाकिस्तान में किया जा रहा है. टूर्नामेंट सोमवार को लाहौर के पंजाब फुटबाल स्टेडियम में शुरू हुआ. इसके कुछ मैच फैसलाबाद और गुजरात (पाकिस्तान) में भी खेले जायेंगे.

न्‍यूज एजेंसी पीटीआई ने खेल मंत्रालय के सूत्रों के हवाले से लिखा कि सरकार ने किसी भी खिलाड़ी को टूर्नामेंट के लिये पाकिस्तान जाने की अनुमति नहीं दी है. आईओए की तरफ से भी खिलाड़ियों को पाकिस्तान जाने की अनुमति देने से इनकार कर दिया गया.

पढ़ें:- अंडर-19 विश्व कप फाइनल के दौरान कोड ऑफ कंडक्ट तोड़ने पर पांच खिलाड़ियों को मिली सजा

आईओए अध्यक्ष नरिंदर बत्रा ने कहा, ‘‘भारतीय एमेच्योर कबड्डी महासंघ (एकेएफआई) पहले ही कह चुका है कि उसने किसी भी टीम को पाकिस्तान दौरे की मंजूरी नहीं दी और आईओए ने भी ऐसे किसी दौरे के लिए मंजूरी नहीं दी है.’’

‘‘खेल मंत्रालय ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि उसने कोई स्वीकृति नहीं दी है. इसलिए, हम वास्तव में नहीं जानते हैं कि पाकिस्तान दौरे पर कौन गया है. आईओए और सरकार की मंजूरी के बिना कोई भी भारत के नाम का उपयोग नहीं कर सकता है.’’