नई दिल्ली: विश्व की सबसे महंगी क्रिकेट लीग इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की ब्रैंड वैल्यू में अच्छी खासी बढ़ोतरी हुई है. वर्ष 2017 में आईपीएल की वैल्यू 5.3 अरब डॉलर था जोकि इस साल 6.3 अरब डॉलर का हो गया है. ग्लोबल वैल्यूएशन और कॉरपोरेट फाइनेंस एडवाइजर्स डफ एंड फेल्प्स की ओर से बुधवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार, आईपीएल की वैल्यू 18.9 प्रतिशत बढ़कर 6.3 अरब डॉलर का हो गया है.

रिपोर्ट में बताया गया है कि मुंबई इंडियंस 113.0 मिलियन डॉलर की ब्रैंड वैल्यू के साथ लगातार तीसरे सीजन में शीर्ष पर कायम है. वहीं कोलकाता नाइटराइडर्स 104 मिलियन डॉलर की. ब्रैंड वैल्यू के साथ दूसरे नंबर पर है. ऑन-फील्ड परफॉर्मेंस और महेंद्र सिंह धोनी फैक्टर की मदद से चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) को नेगेटिव इंपैक्ट से बाहर आने में मदद मिली है.

INDvENG: बारिश की वजह से धुला पहला सेशन, लंच ब्रेक के बाद भी शुरु नहीं हुआ खेल

सीएसके और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर दोनों की ब्रैंड वैल्यू 98.0 मिलियन डॉलर है. इसके बाद लिस्ट में सनराइजर्स हैदराबाद, दिल्ली डेयरडेविल्स, किंग्स इलेवन पंजाब और राजस्थान रॉयल्स है. डफ एंड फेल्प्स के प्रबंध निदेशक संतोष एन ने रिपोर्ट पर टिप्पणी करते हुए कहा, “हमारी आईपीएल की ब्रैंड वैल्यू रिपोर्ट न केवल भारत में खेल की लोकप्रियता को बल्कि विपणन और वैश्वीकरण के लाभान्वित क्लबों के साथ आधुनिक क्रिकेट व्यापार के विकास को भी दशार्ती है.”