इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2020 सीजन के लिए 19 दिसंबर को कोलकाता में खिलाड़ियों की नीलामी हुई. नीलामी में 62 खिलाड़ियों की बोली लगी. अब खबर ये है कि मैचों के समय में बदलाव हो सकता है. आईपीएल की संचालन परिषद अगामी सीजन के रात के मैच 8 बजे की जगह 7 बजकर 30 मिनट पर शुरू करने के संदर्भ में सोमवार को चर्चा करेगी. Also Read - Sourav Ganguly Getting Well: तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं दादा! बेटी Sana Ganguly ने शेयर की ये डैसिंग तस्वीर

पहलवान विनेश फोगाट ने पद्म पुरस्कारों की चयन प्रक्रिया पर उठाए सवाल Also Read - IPL 2021: ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों का बड़ा फैसला, IPL के दौरान नहीं करेंगे फास्ट फूड, शराब और तंबाकू का विज्ञापन

बैठक के दौरान अध्यक्ष सौरव गांगुली और सचिव जय शाह सहित बीसीसीआई के शीर्ष पदाधिकारियों के तीन सदस्यीय क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) को भी अंतिम रूप देने की उम्मीद है जो राष्ट्रीय चयन पैनल के उम्मीदवारों का साक्षात्कार लेगी. Also Read - India vs England: फिटनेस टेस्ट पासकर इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी दो मैचों के लिए भारतीय टेस्ट स्क्वाड से जुड़े उमेश यादव

गौतम गंभीर और सुलक्षणा नाइक की मुश्किलें बढ़ीं

पता चला है कि गौतम गंभीर और सुलक्षणा नाइक लोढा समिति की सिफारिशों के अनुसार सीएसी में जगह बनाने के पात्र नहीं हैं. गंभीर ने 2018-19 सत्र में संन्यास लिया है जबकि वह सांसद भी हैं.

नाइक ने भी 2018-19 सत्र में घरेलू क्रिकेट खेला और सीएसी का सदस्य बनने के लिए किसी का भी सक्रिय क्रिकेट से कम से कम पांच साल पहले संन्यास लेना जरूरी है.

पूर्व टेस्ट बल्लेबाज बृजेश पटेल की अगुआई में आईपीएल संचालन परिषद की दूसरी बैठक होगी जिसमें 2020 सत्र के कार्यक्रम को अंतिम रूप दिए जाने की उम्मीद है. लोढा समिति की सिफारिशों के अनुसार आईपीएल फाइनल और भारत के अगले अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रम के बीच 15 दिन का अंतर होना जरूरी है.

ICC U19 World Cup 2020: सेमीफाइनल में भारत और पाकिस्तान में हो सकती है भिड़ंत, ये है समीकरण

एक अन्य मुद्दा गुवाहाटी के बारसापारा स्टेडियम में आईपीएल स्थल के रूप में पदार्पण करने का है जो राजस्थान रॉयल्स का दूसरा घरेलू मैदान होगा. इसके अलावा 2021 सत्र में टीमों की संख्या पर भी चर्चा हो सकती है. आईपीएल को दो और फ्रेंचाइजी जोड़कर 10 टीमों की लीग बनाने और इसे दो महीने से अधिक चलाने की मांग की जा रही है.

‘ब्रॉडकास्टर चाहते हैं कि मैच जल्दी शुरू हों’

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ सदस्य ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर पीटीआई को बताया, ‘प्रसारणकर्ता चाहते हैं कि मैच जल्दी शुरू (सात या साढ़े सात बजे) हों और साथ ही सप्ताहांत में दो मैच नहीं हों. इस मुद्दे पर चर्चा होगी. संचालन परिषद की बैठक में पूर्ण कार्यक्रम पर चर्चा होने की संभावना है.’