भारत की अनुभवी स्प्रिंटर निर्मल शेरॉन को डोपिंग मामले में चार साल के लिए बैन करने के साथ-साथ उनके दो एशियाइ्र चैंपिनशिप खिताब वापस ले लिए गए हैं.

IND v SA, 2nd Test: सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया

डोपिंग मामले को देखने वाली एथेलेटिक्स इंटिग्रिट यूनिट (एआईयू) ने ये फैसला लिया.

एआईयू ने निर्मला को जून 2018 में घरेलू प्रतियोगिता में स्टेरॉयड ड्रोस्तानोलोन और मेटेनोलोन के इस्तेमाल का दोषी पाया था. इसके बाद सात अक्टूबर को उन्हें प्रतिबंधित किया गया.

निर्मला ने बैन को स्वीकार कर लिया है

एआईयू के मुताबिक इस भारतीय एथलीट के खून के नमूनों में गड़बड़ी पाई गई थी. उन्होंने प्रतिबंधो को स्वीकार कर लिया है और मामले की सुनवाई की मांग नहीं की.उन्होंने रियो ओलंपिक में भी इन दोनों स्पर्धाओं में भाग लिया था.

World women’s Boxing Championships: लवलीना और जमुना बोरो क्वार्टर फाइनल में, पदक से एक जीत दूर

उनका निलंबन 28 जून 2018 से प्रभावी होगा जबकि अगस्त 2016 से नवंबर 2018 तक के उनके सभी नतीजों को रद्द कर दिया गया. निर्मला ने 2017 में भारत में हुई एशियाई चैम्पियनशिप में 400 मीटर और चार गुणा 400 मीटर रिले में स्वर्ण पदक हासिल किया था.