भारत में बढ़ते कोरोना वायरस (Covid-19) के प्रकोप से भारतीय हॉकी टीम भी अछूती नहीं है. महिला टीम की कप्‍तान रानी रामपाल (Rani Rampal) संक्रमित हो गई हैं. इसके अलावा भारतीय महिला हॉकी टीम की सात खिलाड़ी और सहयोगी स्टाफ के दो सदस्यों भी इस वायरस की चपेट में आ गए हैं. बेंगलुरु स्थित भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) में शुरू होने वाले अभ्यास शिविर से पहले कोविड-19 जांच में पॉजिटिव पाया गया.Also Read - हफ्ते में सिर्फ 3 दिन जाना होगा ऑफिस, 8 फीसदी बढ़ेगी सैलरी; जानिए - कौन सी कंपनी दे रही है यह सुविधा

साई (SAI) ने सोमवार को खिलाड़ियों और सहयोगी सदस्यों के कोविड-19 (Covid-19) पॉजिटिव होने की जानकारी देते हुए बताया कि सभी को पृथकवास में निगरानी में रखा गया है. Also Read - भारत में Omicron के सब वेरिएंट BA.5 के एक और मरीज की पुष्टि, दक्षिण अफ्रीका से वडोदरा आया था शख्स

साई के मुताबिक, ‘‘ ये खिलाड़ी और सहयोगी सदस्य अपने गृह नगर से साई के बेंगलुरु परिसर में आये थे और प्रोटोकॉल के मुताबिक पृथकवास समय पूरा करने के बाद 24 अप्रैल को सभी की कोरोना वायरस की जांच की गयी थी.’’ Also Read - सऊदी अरब में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामले, भारत समेत इन देशों में यात्रा करने पर लगा प्रतिबंध

विज्ञप्ति के मुताबिक, ‘‘ महिला टीम की कप्तान रानी रामपाल (Rani Rampal) के अलावा पॉजिटिव आने वाली खिलाड़ियों में सविता पूनिया, शर्मिला देवी, रजनी, नवजोत कौर, नवनीत कौर और सुशीला हैं. इसके अलावा, वीडियो विश्लेषक अमृतप्रकाश और वैज्ञानिक सलाहकार वेन लोम्बार्ड भी कोरोना वायरस से संक्रमित मिले है.’’

उन्होंने बताया, ‘‘ सभी खिलाड़ी और सहायक कर्मचारियों में इसके लक्षण नहीं दिख रहे है और उन्हें ‘साई एनसीओई’ में पृथकवास पर रखा गया है.’’

भारतीय हॉकी टीम की कोर समूह 10 दिनों के विश्राम के बाद तोक्यो ओलंपिक की तैयारियों के तहत रविवार को बेंगलुरु में राष्ट्रीय शिविर में भाग लेने के लिए पहुंची थी. अभ्यास शुरू करने से पहले 25 सदस्यों का कोर समूह अनिवार्य पृथकवास पर था.

टीम ने जनवरी में अर्जेंटीना का दौरा किया था. भारतीय टीम को मेजबान देश की जूनियर टीम ने पहले दो मैचों में ड्रा पर रोक दिया. इसके बाद उसे अर्जेंटीना बी के खिलाफ दो मैचों में हार का सामना करना पड़ा. फिर दुनिया की नंबर दो सीनियर टीम के खिलाफ भी दो मैचों में हार का सामना करना पड़ा था.