बांग्लादेश के खिलाफ कोलकाता में पहला डे-नाइट टेस्ट खेलने के बाद अब भारतीय टीम ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर गुलाबी गेंद से दो टेस्ट मैच खेल सकती है। दरअसल 2021 में होने वाले भारत के ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर दो डे-नाइट टेस्ट मैच खेले जाने की खबर है। अगर ऐसा होता है तो ये पहली सीरीज होगी जहां एक से ज्यादा पिंक बॉल टेस्ट खेले जाएंगे।

ईएसपीएनक्रिकइंफो में छपी खबर के मुताबिक क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया का एक दल जनवरी में होने वाले सीमित ओवर फॉर्मेट सीरीज से पहले बीसीसीआई (BCCI) से मुलाकात कर टेस्ट सीरीज पर चर्चा करेगा।

भारत आने वाले सीए दल के सदस्य के प्रमुख और बोर्ड चेयरमैन अर्ल एडिंग्स ने इस बारे में कहा, “जब हम वनडे सीरीज के लिए जनवरी में वहां (भारत) जाएंगे तो इसकी चर्चा करेंगे। खुशी की बात है उन्होंने अपना पहला डे-नाइट टेस्ट खेला और आसानी से जीता। इसलिए अब जबकि वो इस अनुभव से गुजर चुके हैं तो उन्हें यहां पर इसके (डे-नाइट टेस्ट) लिए सही बिल्ड-अप मिल सकता है।”

एडिंग्स ने आगे कहा, “मुझे इस बात में कोई शक नहीं है कि वो यहां एक या उससे ज्यादा डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने को राजी होंगे। लेकिन वो सब हमारे जनवरी में उनसे मिलने के बाद तय होगा।”

IND vs WI सीरीज से टी20 विश्व कप में जगह बनाना चाहेंगे ये भारतीय खिलाड़ी

बता दें कि सीए ने पिछले साल हुए भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भी डे-नाइट टेस्ट कराने की अपील की थी लेकिन भारतीय क्रिकेट बोर्ड इसके लिए तैयार नहीं हुआ।

ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम के कप्तान टिम पेन (Tim Paine) ने हाल ही में दिए एक बयान में इस पर तंज भी कसा। जब पेन से पूछा गया कि क्या वो ब्रिसबेन के द गाबा स्टेडियम में मैच के साथ भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज की शुरुआत करना चाहेंगे, क्योंकि इस मैदान पर ऑस्ट्रेलिया अजेय है तो पेन ने कहा था कि वो इसके लिए भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) से पूछेंगे और अगर उन्होंने हां कह दी तो मैच का आयोजन किया जाएगा। पेन ने ये भी कहा कि अगर कोहली अच्छे मूड में हुए तो शायद डे-नाइट टेस्ट खेलने के लिए भी तैयार हो जाएं।