India vs Australia Mumbai ODI: एरोन फिंच की कप्तानी वाली ऑस्ट्रेलयाई क्रिकेट टीम ने विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम इंडिया को पहले वनडे में 10 विकेट से रौंदकर साल 2020 में लिमिटेड ओवर्स के क्रिकेट में धमाकेदार शुरुआत की है.

वॉर्नर-फिंच के नाबाद शतकों से ऑस्ट्रेलिया की भारत भारत पर रिकॉर्ड जीत 

यह ऑस्ट्रेलिया की वनडे इतिहास की 40 साल में भारत पर सबसे बड़ी जीत है. कंगारूओं ने पहली बार टीम इंडिया को 10 विकेट से रौंदा. तीन मैचों की सीरीज में मेहमान कंगारू टीम ने 1-0 की बढ़त बना ली है. सीरीज का दूसरा वनडे 17 जनवरी को राजकोट में खेला जाएगा.

इस मैच में टीम इंडिया की हार के कई कारण रहे जिनमें विराट कोहली को बल्लेबाजी के लिए तीसरे से चौथे नंबर पर उतरना, मिडिलऑर्डर बल्लेबाजों का ना चलना और गेंदबाजों का असरहीन रहना शामिल हैं.

रोहित शर्मा नहीं दिला पाए अच्छी शुरुआत

वर्ल्ड की बेहतरीन टीमों में से एक ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इस मुकाबले में ओपनर रोहित शर्मा कुछ खास कमाल नहीं कर सके. रोहित उस समय आउट हुए जब टीम के कुल स्कोर में अभी 13 रन ही जुडे थे. उन्हें तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क ने डेविड वॉर्नर के हाथों कैचकराया.

 विराट कोहली का बल्लेबाजी के लिए चौथे नंबर पर उतरना

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने प्लेइंग इलेवन में तीन ओपनर रोहित शर्मा, शिखर धवन और केएल राहुल को शामिल किया था. आमतौर पर तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने वाले कोहली इस मैच में चौथे नंबर पर उतरे जो उन्हें रास नहीं आया.कोहली ने तीसरे नंबर पर केएल राहुल को उतारा जो 61 गेंदों पर 47 रन बनाकर आउट हुए. राहुल के आउट होने के बाद कोहली मैदान पर उतरे लेकिन उनके खाते में अभी 16 रन ही जुड़े थे कि युवा स्पिनर एडम जांपा ने अपनी ही गेंद पर उन्हें कैच कर पवेलियन भेज दिया.

मिडिल ऑर्डर ने किया निराश

कोहली के आउट होने के बाद एक बार फिर मिडिल ऑर्डर पूरी तरह से विफल रहा. मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाजों श्रेयस अय्यर, रविंद्र जडेजा और रिषभ पंत भी बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे. अय्यर चार, जडेजा 25, पंत (28) अंतिम ओवरों में तेजी से रन नहीं जुटा पाए. निचले क्रम में कुलदीप यादव (17), शार्दुल ठाकुर (13) और मोहम्मद शमी (10) की छोटी पारी की बदौलत टीम इंडिया ढाई सौ के आंकड़े को छूने में सफल रही. पूरी टीम 50 ओवर भी बल्लेबाजी नहीं कर पाई.

भारतीय गेंदबाज रहे असरहीन

ऑस्ट्रेलियाई सलामी बल्लेबाजों डेविड वॉर्नर और एरोन फिंच के सामने भारतीय गेंदबाज बेदम नजर आए. चोट के बाद वापसी करने वाले तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह भी छाप छोड़ने में असफल रहे. स्पिन डिपार्टमेंट में चाइनामैन कुलदीप यादव और रविंद्र जडेजा की गेंदों की भी खूब पिटाई हुई. बुमराह ने 7 ओवर में बिना कोई मेडन डाले 50 रन लुटाए जबकि मोहम्मद शमी ने 7.4 ओवर में 58 रन दे डाले. कुलदीप ने 10 ओवर में 55 वहीं शार्दुल ठाकुर ने 5 ओवर में ही 43 रन खर्च डाले.

पंत के सिर में लगी चोट, हुए कनकशन के शिकार, केएल राहुल ने की विकेटकीपिंग

भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए ओपनर शिखर धवन 74 और के केएल राहुल के 47 रन की बदौलत 50 ओवर में 255 रन बनाए थे. जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने ओपनर डेविड वॉर्नर (128*) और कप्तान एरोन फिंच (110*) की रिकॉर्ड साझेदारी के दम पर 74 गेंद बाकी रहते ही 10 विकेट से मैच जीत लिया.