भारतीय टेस्ट टीम के उप कप्तान अजिंक्य रहाणे इस समय बांग्लादेश के खिलाफ आगामी टेस्ट सीरीज की तैयारियों में जुटे हैं.  रहाणे का मानना है कि यदि वह टेस्ट मैचों में लगातार रन बनाते रहे तो उन्हें वनडे टीम में वापसी से कोई नहीं रोक सकता.

टेस्ट सीरीज में अश्विन और जडेजा की स्पिन जोड़ी से निपटने की तैयारी कर रहा बांग्लादेश

रहाणे ने अपना अंतिम वनडे मैच फरवरी-2018 में दक्षिण अफ्रीका दौरे पर खेला था.  भारत को बांग्लादेश के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी हैं जिसकी शुरुआत गुरुवार से हो रही है.

रहाणे ने इंदौर में मंगलवार को कहा, मुझे बस टेस्ट में अच्छा करने की जरूरत है.  मुझे लगातार रन करने हैं और मुझे पूरा विश्वास है कि मैं वनडे टीम में वापसी कर सकता हूं.  यह सिर्फ  खुद पर विश्वास करने और आत्मविश्वास रखने की बात है. ‘

रहाणे ने भारत के लिए 90 वनडे खेले हैं और 35.26 की औसत से 2, 962 रन बनाए हैं.  वनडे में रहाणे ने तीन शतक और 24 अर्धशतक जमाए हैं.

‘बांग्लादेश को हल्के में लेने की भूल नहीं करेंगे’

भारतीय टीम टेस्ट में नंबर-1 है और बांग्लादेश से पहले उसने अपने घर में ही दक्षिण अफ्रीका को तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में 3-0 से हराया है.  रहाणे ने हालांकि कहा है कि उनकी टीम बांग्लादेश को टेस्ट में हल्के में नहीं लेगी.

उन्होंने कहा, ‘बांग्लादेश काफी अच्छी टीम है.  वह एक ईकाई की तरह खेलते हैं.  हम अपनी विपक्षी टीम के बारे में सोचने के बजाए अपने मजबूत पक्ष के बारे में सोचते हैं.  टेस्ट चैम्पियनशिप के आने से अब हर मैच अहम हो गया है. ‘

वापसी की तैयारियों में जुटे भुवनेश्वर कुमार ने टीम इंडिया के साथ की प्रैक्टिस

भारत और बांग्लादेश के बीच दूसरा मैच 22 नवंबर से कोलकाता के ईडन गार्डन्स स्टेडियम में खेला जाएगा जो डे-नाइट प्रारूप में होगा.  यह दोनों टीमों का दिन-रात प्रारूप का पहला टेस्ट मैच होगा.