भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के अध्यक्ष सौरव गांगुली का कहना है कि डे-नाइट टेस्ट मैच में शाम के समय पारंपरिक टेस्ट मैचों में इस्तेमाल होने वाली लाल गेंद के मुकाबले पिंक बॉल को देखना आसान है.

शेन वॉर्न को टीम इंडिया की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड में डे-नाइट टेस्ट खेलने की उम्मीद

भारतीय टीम इस समय बांग्लादेश के खिलाफ अपना पहला डे-नाइट टेस्ट मैच कोलकाता के ईडन गार्डंस में खेल रही है. इस टेस्ट में गेंद की दृश्यता को लेकर चल रही चर्चा के बीच गांगुली का यह बयान आया है.

शाम के समय में गुलाबी गेंद की दृश्यता को लेकर सवाल उठ रहे थे जिसके बारे में पूछे जाने पर पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा, ‘इसे देखना लाल गेंद से भी आसान है.’ गांगुली ने हालांकि ऑस्ट्रेलिया में डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने के बारे में पूछे जाने पर कुछ नहीं बोलना बेहतर समझा.

‘मैं किसी दबाव में नहीं था लेकिन व्यस्त था’

देश में गुलाबी गेंद से पहले टेस्ट की मेजबानी में अहम भूमिका निभाने वाले गांगुली ने कहा कि मैदान में दर्शकों की भीड़ को देखकर उन्हें काफी खुशी हुई.

उन्होंने कहा, ‘सबसे अहम यह है कि इतने सारे लोग मैच देखने आए. मैं किसी दबाव में नहीं था लेकिन व्यस्त था.’

टीम इंडिया ने 9 विकेट पर 347 रन बनाकर पहली पारी घोषित की

गांगुली ने मैच के पहले दिन बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना की उपस्थिति के लिए उन्हें धन्यवाद दिया. उन्होंने बांग्लादेश के राष्ट्रपिता शेख मुजीबुर रहमान की 100वीं जयंती के मौके पर अगले साल खेले जाने वाले एशियाई ऑल स्टार एकादश और विश्व एकादश के बीच खेले जाने वाले दो टी-20 मैचों के दौरान मौजूद रहने का वादा किया.

उन्होंने कहा, ‘मैं वहां जाउंगा. मुझे पता है वहां इसका शानदार आयोजन होगा.’ दो मैचों की टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम 1-0 से आगे है. भारत ने इंदौर टेस्ट पारी और 130 रन से जीता था.