न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम को भारत के खिलाफ लगातार दूसरे टी20 मैच में सुपर ओवर में हार का सामना करना पड़ा. हार से मेजबान टीम बेहद आहत है. हालांकि टीम के विस्फोटक ओपनर कॉलिन मुनरो का कहना है कि उनकी टीम सीरीज का पांचवां और अंतिम मैच जीतकर शानदार वापसी करेगी. Also Read - महज दो ओवर स्‍लो फेंकने से WTC फाइनल से वंचित हुए कंगारू, सामने आया Justin Langer का दर्द

‘जीत का श्रेय टीम इंडिया को’ Also Read - India vs England T20i: विराट कोहली के सामने आने वाली है बड़ी चुनौती, इन 6 खिलाड़ियों में से इंग्लैंड के खिलाफ किसे देंगे Playing XI में जगह

मुनरो ने भारत को जीत का श्रेय दिया और कहा कि वे हमेशा वापसी का मौका बना देते हैं. मुनरो ने हार के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘यही क्रिकेट है. हमने दोनों मैचों में खुद को जीत की स्थिति में रखा था लेकिन भारतीय टीम इस समय बेहतरीन फॉर्म में है और जिस तरह की क्रिकेट वह खेल रही है वह हमेशा वापसी का रास्ता निकाल लेती है. इसके बाद सुपर ओवर में थोड़ा भाग्य की भी बात होती है. यह किसी भी टीम के पक्ष में जा सकता है.’ Also Read - साउथम्पटन में खेला जाएगा भारत-न्यूजीलैंड के बीच होने वाला ICC विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल: सौरव गांगुली

टीम इंडिया की नजर 5-0 से टी20 सीरीज जीतने पर : मनीष पांडे

उन्होंने कहा, ‘हमने दो मैच अपने हाथों से गंवा दिए. कुछ खिलाड़ी वास्तव में आहत हैं लेकिन हमारी टीम मजबूत है और हम वापसी करेंगे. उम्मीद है कि रविवार को हम जीत दर्ज करेंगे.’

‘हम लक्ष्य से खुश थे’

मुनरो ने कहा कि उन्हें जो लक्ष्य मिला था उससे वे खुश थे. उनके और टिम सीफर्ट के बीच दूसरे विकेट के लिए 74 रन की साझेदारी से एक समय वे आसान जीत की तरफ बढ़ रहे थे लेकिन इसके बाद नियमित अंतराल में विकेट गंवाने से उनकी जीत की संभावना कम गई.

उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि मुझे शुरू से ही आक्रामक रवैया अपना चाहिए था. ईमानदारी से कहूं तो उन्होंने ईडन पार्क पर पहले मैच के बाद मेरे लिये बहुत अच्छी गेंदबाजी की. उन्होंने मेरे लियए सीधी गेंदें की तथा दो खिलाड़ी लेग साइड में रखे.’

BCCI की नई CAC में आरपी सिंह, मदन लाल और इस महिला क्रिकेटर को मिली जगह

5 मैचों की सीरीज में भारतीय टीम 4-0 से आगे है. सीरीज का पांचवां और अंतिम मैच रविवार को खेला जाएगा. टीम इंडिया पहली बार न्यूजीलैंड की धरती पर टी20 सीरीज जीतने में सफल रही है. इससे पहले उसे दो मौकों पर सीरीज गंवाने पर मजबूर होना पड़ा था.