भारतीय चयन समिति जब बांग्लादेश के खिलाफ आगामी सीरीज के लिये गुरूवार को टीम चुनने के लिये बैठक करेगी तो कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) के कार्यभार का मुद्दा चर्चा का विषय होगा जबकि रिषभ पंत (Rishabh Pant) के लिये संजू सैमसन (sanju samson) को कवर के तौर पर शामिल किया जा सकता है.

भारत ने अक्टूबर 2018 से सभी प्रारूपों में 56 मैच खेले हैं जिसमें से 48 में कोहली खेले हैं. हालांकि चयन समिति इस फैसले को कोहली पर ही छोड़ेगी कि वह ब्रेक चाहते हैं या फिर जारी रखना चाहते हैं.

मुंबई के उदीयमान ऑलराउंडर शिवम दुबे (Shivam Dube) के बारे में गंभीर चर्चा की उम्मीद है जो चोटिल हार्दिक पांड्या की जगह ऑलराउंडर के स्थान पर चुने जा सकते हैं.

तीन नवंबर से नयी दिल्ली में शुरू होने वाली तीन मैचों की टी20 सीरीज (दो अन्य मैच राजकोट और नागपुर में) के अलावा बांग्लादेश की टीम विश्व चैम्पियनशिप (ICC Test Championship) के अंतर्गत दो टेस्ट मैच (इंदौर और कोलकाता) में खेलेगी.

सैमसन ने हाल में विजय हजारे ट्राॅफी (Vijay Hazare) में केरल के लिये दोहरा शतक जड़ा था, उनके पंत के बाद दूसरे विकल्प के रूप में चुने जाने की उम्मीद है.

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने नाम नहीं बताने की शर्त पर कहा, ‘‘अगर रिषभ और संजू दोनों टीम में होंगे तो इसमें कोई परेशानी नहीं होगी. ये दोनों आईपीएल में भी एक साथ खेल चुके हैं. रिषभ को खेल के सबसे छोटे प्रारूप में सीमित सफलता मिली है लेकिन भविष्य को देखते हुए हमें उसे खिलाने की जरूरत है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘साथ ही संजू में मैच का रूख बदलने की काबिलियत है. विश्व टी20 को ध्यान में रखते हुए टीम प्रबंधन को अन्य विकल्प भी देखने की जरूरत है क्योंकि हर कोई जानता है कि अब समय महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) से आगे देखने का है.’’

कोहली टीम में नहीं होंगे तो सैमसन को ‘बैक-अप’ बल्लेबाज के रूप देखा जा रहा है लेकिन यह देखना दिलचस्प होगा कि मनीष पांडे (Manish Pandey) टीम में अपना स्थान बरकरार रख पाते हैं या नहीं.

मुंबई के ऑलराउंडर शिवम दुबे ने छोटे प्रारूप में ऑलराउंडर के दूसरे विकल्प में विजय शंकर (Vijay Shankar) को पछाड़ दिया है. सूत्र ने कहा, ‘‘हर कोई सहमत है कि शिवम की गेंदबाजी अभी तक अंतरराष्ट्रीय स्तर की नहीं है और वह हार्दिक की वैराइटी के करीब भी नहीं है. लेकिन वह बायें हाथ का खिलाड़ी है जो सकारात्मक चीज है और वह बड़े छक्के जड़ सकता है.’’

कलाई के स्पिनरों की जोड़ी कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) और युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) को चुने जाने की उम्मीद नहीं है क्योंकि राहुल चाहर और वाशिंगटन सुंदर को एक और मौका मिलना तय है.

विजय हजारे ट्राॅफी (Vijay Hazare Trophy) में अच्छे प्रदर्शन के बाद केएल राहुल के टीम में अपना स्थान बरकरार रखने की संभावना है.

अनुभवी सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (Shikhar Dhawan) खराब फाॅर्म में है लेकिन चयनकर्ता शायद उन्हें एक और सीरीज में जारी रख सकते हैं. अगर उन्हें बाहर किया जाता है तो मयंक अग्रवाल रिजर्व सलामी बल्लेबाज का विकल्प हो सकते हैं. दीपक चाहर, नवदीप सैनी और खलील अहम के तीन मुख्य तेज गेंदबाज होने की उम्मीद है.