नई दिल्ली. टीम इंडिया ने भारत के पूर्व कप्तान अजीत वाडेकर के निधन पर उन्हें श्रद्धांजलि दी है. विराट कोहली की अगुवाई में भारतीय खिलाड़ियों ने ट्रेंट ब्रिज में प्रैक्टिस सेशन के दौरान 2 मिनट का मौन रखा. टीम इंडिया के अजीत वाडेकर को श्रद्धांजलि देने की इन तस्वीरों को BCCI ने ट्वीट किया है. Also Read - नासिर हुसैन ने जो डेन्ली को दी सलाह: बड़ा स्कोर बनाना हो तो कोहली से सीख लें

Also Read - 'युवा ओपनर पृथ्वी शॉ में है वीरेंद्र सहवाग जैसी क्षमता, किसी भी गेंदबाजी अटैक को कर सकता है ध्वस्त'

BCCI की ही तरह अजीत वाडेकर के निधन पर भारतीय टीम की श्रद्धांजलि देने की तस्वीर को क्रिकेट की सर्वोच्च संस्था ICC ने भी ट्वीट किया है.

भारतीय क्रिकेट के वो ऐतिहासिक ‘किस्से’ जिसके अजीत वाडेकर रहे ‘पहले’ किरदार

जबरदस्त कप्तान, आक्रामक बल्लेबाज

अजीत वाडेकर का निधन 77 साल की उम्र में मुंबई के जसलोक अस्पताल में हुआ. वाडेकर भारत के पहले ऐसे कप्तान थे जिन्होंने भारतीय टीम को विदेशी धरती पर जीतना सिखाया. उनकी कप्तानी में भारत को पहली सीरीज जीत 1971 में वेस्टइंडीज में मिली और फिर इसी साल इंग्लैंड में भी उन्होंने अपनी कप्तानी में सीरीज जीतकर इतिहास रचा. एक जबरदस्त कप्तान होने के साथ साथ अजीत वाडेकर बाएं हाथ के आक्रामक बल्लेबाज भी थे. टीम इंडिया के लिए खेलते हुए उन्होंने 37 टेस्ट में 2113 रन बनाए थे. उनके नाम 237 फर्स्ट क्लास मैचों में 15380 रन भी दर्ज हैं.

इंग्लैंड में सीरीज जीतने वाले पहले भारतीय कप्तान के निधन पर PM मोदी ने जताया शोक,वर्ल्ड क्रिकेट सन्न!

क्रिकेट से रिटायर होने के बाद भी अजीत वाडेकर अलग-अलग रोल में टीम इंडिया से जुड़े रहे. 1992 में उन्हें आधिकारिक तौर पर टीम इंडिया का पहला हेड कोच बनाया गया. इसके बाद वो भारतीय टीम के मैनेजर और चीफ सलेक्टर भी रहे.