नई दिल्ली. इंग्लैंड में भारतीय गेंदबाजी की तूती बोल रही है. टीम इंडिया के पेस अटैक के आगे इंग्लिश बल्लेबाजों का सरेंडर देखते बन रहा है. इसका सबसे ताजा उदाहरण नॉटिंघम में खेला तीसरा टेस्ट रहा जहां भारत के तेज गेंदबाजों ने 20 में से 19 विकेट चटकाए. इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में भारतीय पेस अटैक के शानदार प्रदर्शन पर तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने भी कहा है, ” मौजूदा पेस अटैक सबसे दमदार है. भारतीय टीम में लंबे अंतराल के बाद तेज गेंदबाजी में ऐसी धार दिखी है. हमारा पेस अटैक इस वक्त दुनिया के किसी भी क्रिकेट टीम के मुकाबले बेहतर है.” Also Read - न्यूजीलैंड की उछाल, सीम और स्विंग वाली पिच पर भारतीय तेज गेंदबाजों को मिलेगी मदद: शमी

साउथैम्प्टन टेस्ट में ईशांत शर्मा जड़ेंगे ‘हाफ सेंचुरी’, टेस्ट क्रिकेट में पहली बार करेंगे ये कमाल Also Read - 'भारतीय तेज गेंदबाज इस स्तर पर हैं कि किस मैच में कौन 3 खेलेंगे इसका अनुमान लगाना मुश्किल'

130 साल में पहली बार हुआ ऐसा Also Read - इंग्लैंड के खिलाफ क्लीन स्वीप के इरादे से उतरेगी भारतीय महिला क्रिकेट टीम

इंग्लैंड की धरती पर टीम इंडिया के पेस अटैक का सबसे जोरदार कमाल वो है जिसने वहां के 130 साल के इतिहास को बदल दिया है. भारतीय तेज गेंदबाजों ने ये कमाल विकेट के मामले में किया है. मौजूदा टेस्ट सीरीज में इंडियन पेसर्स हर 43.76 गेंद पर विकेट लेते दिखे हैं जो कि एक रिकॉर्ड है. इंग्लैंड में साल 1888 से लेकर अब तक कम से कम 3 या उससे ज्यादा टेस्ट मैच की सीरीज में किसी भी विरोधी टीम के पेसर्स ने इतनी कम गेंदों पर विकेट नहीं चटकाए हैं.

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने इंग्लैंड को चेताया, ‘जॉनी बेस्टो को करूंगा टारगेट’

46 में से 38 विकेट भारतीय पेसर्स के नाम

इंग्लैंड के खिलाफ खेली टेस्ट सीरीज के 3 मैचों में भारतीय पेसर्स ने अब तक कुल 46 विकेट लिए हैं, जिसमें सबसे केवल 8 विकेट ही स्पिनर ले सके हैं. बाकी के 38 विकेट तेज गेंदबाजों ने लिए हैं. इनमें से सबसे ज्यादा 11 विकेट ईशांत शर्मा के नाम है. इसके अलावा पांड्या ने 9 विकेट, शमी ने 8 विकेट जबकि बुमराह को 7 विकेट मिले हैं.