नई दिल्ली. इंग्लैंड के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज में विराट कोहली अपने करियर के सबसे शानदार फॉर्म में चल रहे हैं. इस सीरीज में अब तक उन्होंने 73.33 की औसत से बल्लेबाजी की है जो कि पिछली किसी भी सीरीज के मुकाबले उवका सबसे बेहतर औसत है. इसी फॉर्म के बूते विराट कोहली अब इंग्लैंड में एक बड़ी कामयाबी के करीब पहुंच गए हैं. वो इंग्लैंड में 16 साल पुराने भारतीय रिकॉर्ड को तोड़कर सभी को पीछे छोड़ने की ओर बढ़ चले हैं.Also Read - IND vs ENG- विराट कोहली की फॉर्म ही नहीं कॉन्फिडेंस भी डगमगा गया है: Sanjay Manjrekar

Also Read - WATCH: रिषभ पंत की शतकीय पारी से भी बेहतरीन है उस पर किया राहुल द्रविड़ का ये रिएक्शन

16 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ेंगे विराट Also Read - IND vs ENG: Michael Vaughan बोले- एजबेस्टन में शतक जड़ेंगे Virat Kohli, लेकिन पहले करना होगा यह काम

विराट कोहली 16 साल पुराने भारतीय रिकॉर्ड को तोड़ने के कितने करीब हैं उससे पहले ये जान लीजिए कि वो रिकॉर्ड है क्या. दरअसल, ये रिकॉर्ड है एक सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज बनने का. फिलहाल, ये रिकॉर्ड राहुल द्रविड़ के नाम हैं. द्रविड़ ने साल 2002 में इंग्लैंड में खेली टेस्ट सीरीज में 602 रन बनाए थे. विराट कोहली ने भी इंग्लैंड के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज की 6 पारियों में 440 रन बना लिए हैं. यानी, वो द्रविड़ के 16 साल पुराने रिकॉर्ड को तोड़ने से 162 रन दूर हैं. मतलब ये कि अगले 2 टेस्ट की 4 पारियों में विराट कोहली राहुल द्रविड़ का रिकॉर्ड आसानी से ब्रेक कर सकते हैं.

द्रविड़ और गावस्कर को छोड़ेंगे पीछे

इंग्लैंड में एक टेस्ट सीरीज में सर्वाधिक रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाजों की फेहरिस्त में विराट कोहली 440 रन के साथ फिलहाल चौथे नंबर हैं. इस लिस्ट में दूसरा नाम सुनील गावस्कर का है. गावस्कर ने 1979 के इंग्लैंड दौरे पर 542 रन बनाए थे जबकि तीसरे नंबर पर एक बार फिर राहुल द्रविड़ ही हैं. द्रविड़ ने 2011 के इंग्लैंड दौरे पर 461 रन बनाए थे.

वेस्टइंडीज में बना रिकॉर्ड इंग्लैंड में टूटेगा, 48 साल बाद विराट कोहली करेंगे ‘चमत्कार’?

विराट ने बतौर कप्तान एक टेस्ट सीरीज में अजहर के इंग्लैंड में सबसे ज्यादा 426 रन बनाने के एशियाई रिकॉर्ड को तो तोड़ ही दिया है. अब उनके निशाने पर 16 साल पुराना रिकॉर्ड है जिसे अगर उन्होंने अगले 2 टेस्ट में तोड़ दिया तो वो इंग्लैंड में खेली एक टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज भी बन जाएंगे.