ओपनर केएल राहुल (54) और शिखर धवन (52) के अर्धशतकों के बूते भारतीय क्रिकेट टीम ने 3 मैचों की सीरीज के अंतिम टी-20 मैच में श्रीलंका के सामने 202 रन का लक्ष्य रखा है.

अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप से पहले भारत को बड़ा झटका, ये स्टार खिलाड़ी हुआ बाहर

पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में शुक्रवार को खेले जा रहे इस मैच में मेजबान भारत ने निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट पर 201 रन बनाए.मनीष पांडे 18 गेंदों पर 4 चौकों की मदद से 31 जबकि शार्दुल ठाकुर 8 गेंदों पर 2 छक्कों और एक चौके की मदद से 22 रन पर नाबाद लौटे.

केएल राहुल और धवन दिलाई धमाकेदार शुरुआत

इससे पहले श्रीलंकाई कप्तान लसिथ मलिंगा ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया.केएल राहुल और धवन ने टीम इंडिया को शानदार शुरुआत दिलाई.दोनों ने पहले विकेट के लिए 10.5 ओवर में 97 रन की साझेदारी की.अच्छी लय में दिख रहे धवन को स्पिनर संदाकन लक्षण ने दनुष्का गुणाथिलका के हाथों कैच कराकर भारत को पहला झटका दिया. धवन ने अपनी अर्धशतकीय पारी में 36 गेंदों पर 7 चौके और 1 छक्का लगाया.

4 साल बाद टीम इंडिया में लौटे संजू सैमसन सस्ते में लौटे

धवन के आउट होने के बाद चार साल बाद टीम में वापसी कर रहे संजू सैमसन भी जल्दी ही पवेलियन लौट गए.उन्हें वानिंडू हसारंगा ने एलबीडब्ल्यू आउट किया.सैमसन 2 गेंदों पर एक छक्के की मदद से 6 रन बनाकर पवेलियन लौटे।

चार साल बाद टीम में लौटे संजू सैमसन, फैंस ने कहा- अब दंगल होगा

इसके बाद भारत ने जल्दी-जल्दी दो विकेट गंवाए.केएल राहुल के रूप में भारत ने अपना तीसरा विकेट गंवाया.उन्हें संदाकन ने अपना दूसरा शिकार बनाया.राहुल ने अपने अर्धशतक के दौरान 36 गेंदों पर 5 चौके और एक छक्का लगाया.श्रेयस अय्यर कुछ खास कमाल नहीं कर सके.उन्हें 4 रन के निजी स्कोर पर संदाकन ने अपनी ही गेंद पर कैच किया.

कोहली ने बतौर कप्तान इंटरनेशनल क्रिकेट में पूरे किए सबसे तेज 11,000 रन

कप्तान विराट कोहली उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर सके.हालांकि एक रन लेने के साथ वह बतौर कप्तान इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे तेज 11,000 रन पूरे किए.इस उपलब्धि को हासिल करने वाले कोहली वर्ल्ड के छठे जबकि महेंद्र सिंह धोनी के बाद भारत के दूसरे कप्तान बने.कोहली 26 रन बनाकर रनआउट हुए.उन्होंने 17 गेंदों पर 2 चौके और 1 छक्का लगाया.लाहिरू कुमारा ने वाशिंगटन सुंदर को खाताभी नहीं खोलने दिया.

श्रीलंका की ओर से संदाकन लक्षण ने सर्वाधिक 3 विकेट लिए जबकि कुमारा और हसारंगा के खाते में एक-एक विकेट आए.