नार्थ साउंड: अजिंक्य रहाणे ने एक छोर पर मोर्चा संभाले रखा जबकि हनुमा विहारी ने अपने करियर का दूसरा अर्धशतक जमाया जिससे भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट क्रिकेट मैच के चौथे दिन लंच तक रविवार को यहां चार विकेट पर 287 रन बनाकर अपनी स्थिति मजबूत कर ली. पहली पारी में 81 रन बनाने वाले रहाणे अभी 221 गेंदों का सामना करके 90 रन बनाकर खेल रहे हैं जबकि विहारी 57 रन बनाकर उनका साथ दे रहे हैं. इन दोनों ने पांचवें विकेट के लिये अब तक 100 रन जोड़े हैं. भारत की कुल बढ़त अब 362 रन की हो गयी है और कप्तान विराट कोहली किसी भी समय पारी समाप्ति की घोषणा कर सकते हैं.

 

भारत ने पहले सत्र में केवल कोहली का विकेट गंवाया और इस बीच 102 रन जोड़े. वेस्टइंडीज की तरफ से आफ स्पिनर रोस्टन चेज ने 107 रन देकर तीन विकेट लिये हैं. भारत ने चौथे दिन तीन विकेट पर 185 रन से आगे खेलना शुरू किया. अभी इस स्कोर दो रन जुड़े थे कि दिन के दूसरे ओवर में कप्तान विराट कोहली पवेलियन लौट गये. जैसन होल्डर ने दूसरे छोर से गेंद स्पिनर रोस्टन चेज को सौंपी जिनकी गेंद कोहली के बल्ले का किनारा लेकर शार्ट कवर पर जॉन कैंपबेल के पास गयी. उन्होंने दूसरे प्रयास में इसे कैच कर दिया.


कोहली अपने कल के स्कोर 51 रन में कोई इजाफा नहीं कर पाये. इस तरह से रहाणे और कोहली के बीच चौथे विकेट के लिये 108 रन की साझेदारी का भी अंत हुआ. भारत हालांकि तब तक अच्छी स्थिति में पहुंच चुका था और विहारी ने भी रहाणे को कोहली की कमी नहीं खलने दी. इन दोनों ने सहजता से रन बटोरे और कैरेबियाई गेंदबाजों को हावी नहीं होने दिया. रहाणे ने अपनी लय बरकरार रखी लेकिन वह विहारी थे जिन्होंने रन प्रवाह तेज किया. विहारी ने होल्डर की गेंद को लांग आफ पर चार रन के लिये भेजकर अपना दूसरा टेस्ट अर्धशतक पूरा किया. इसमें पांच चौके शामिल थे.