भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के लिए मौजूदा वर्ष अब तक बेहतरीन रहा है. उन्होंने तीनों फॉर्मेट (टेस्ट, वनडे और टी-20) में ढेरों रन बनाए हैं. ‘हिटमैन’ के नाम से मशहूर रोहित के पास 2019 के अपने आखिरी वनडे में श्रीलंका के पूर्व विस्फोटक सलामी बल्लेबाज सनथ जयसूर्या के इस बड़े रिकॉर्ड को पीछे छोड़ने का आखिरी मौका है.

राहुल द्रविड़ के बेटे समित ने ठोकी डबल सेंचुरी, गेंदबाजी में भी मचाया कोहराम

दाएं हाथ के अनुभवी बल्लेबाज रोहित ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 3 मैचों की सीरीज के दूसरे वनडे में शानदार शतक लगाकर कई रिकॉर्ड अपने नाम किए थे. 32 वर्षीय रोहित ने विशाखापत्तनम वनडे में 138 गेंदों पर 17 चौकों और 5 छक्कों की मदद से 159 रन की पारी खेली थी.

इसके साथ ही रोहित ने हमवतन विस्फोटक सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग के रिकॉर्ड को ध्वस्त किया था. रोहित ने इस वर्ष बतौर ओपनर इंटरनेशनल मैचों में कुल 2,379 रन बनाए हैं. उन्होंने सीरीज के दूसरे वनडे में धमाकेदार पारी खेल एक कैलेंडर वर्ष में बतौर भारतीय ओपनर सर्वाधिक रन बनाने के मामले में सहवाग (2,355 रन, साल 2008 ) को पीछे छोड़ा था.

‘खिताब बचाओ’ अभियान के लिए भारतीय क्रिकेट टीम U19 World Cup के लिए दक्षिण अफ्रीका रवाना

हाल में टेस्ट में बतौर ओपनर डेब्यू करने वाले रोहित के निशाने पर अब दिग्गज जयसूर्या का रिकॉर्ड है. बाएं हाथ के पूर्व सलामी बल्लेबाज जयसूर्या ने बतौर ओपनर 1997 में सर्वाधिक 2,387 रन बनाए थे और रोहित को इस आंकड़े को पार करने के लिए महज 9 रन की जरूरत है जबकि 8 रन बनाने के साथ वह जयसूर्या के इस रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे.

3 मैचों की वनडे सीरीज में सर्वाधिक 195 रन बटोर चुके हैं रोहित

रोहित ने विंडीज के खिलाफ मौजूदा वनडे सीरीज के दो मैचों में 100.51 के स्ट्राइक रेट से अब तक सर्वाधिक 195 रन बना चुके हैं. इस दौरान उन्होंने 1 शतक लगाया है. रोहित इस सीरीज में 23 चौके और 5 छक्के लगा चुके हैं.

भारत और विंडीज के बीच सीरीज का तीसरा और निर्णायक वनडे रविवार को कटक में खेला जाएगा. सीरीज का पहला वनडे विंडीज ने 8 विकेट से जीता था जबकि दूसरे वनडे में टीम इंडिया ने मेहमान विंडीज को 107 रन से रौंदा था.