इंग्लैंड दौरे पर गई टीम इंडिया बुधवार को तीसरे और आखिरी टी20 मैच में हार हाल जीत दर्ज करना चाहेगी. यह इस दौरे का आखिरी मैच है और अगर भारतीय टीम यहां जीत दर्ज कर लेती है तो वह तीनों फॉर्मेट की यह सीरीज बराबर कर सकती है. भारत ने यहां एकमात्र टेस्ट मैच ड्रॉ खेला था, जबकि वनडे सीरीज में उसे 1-2 से हार मिली और 3 मैचों की टी20 सीरीज में वह दो मैचों की दोनों टीमें 1-1 से बराबर हैं. मैच से पहले टीम की स्टार ओपनिंग बल्लेबाज और टी20 की उपकप्तान स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) ने टीम की रणनीति पर चर्चा की.Also Read - Smriti Mandhana का द हंड्रड लीग में तहलका, जड़ा अर्धशतक, छक्‍का लगाकर टीम को जिताया मैच

मंधाना ने कहा कि वह युवा ओपनिंग बल्लेबाज शैफाली वर्मा (Shafali Verma) के साथ पारी का आगाज कर बहुत खुश हैं. लेकिन दोनों को ही इस बात की चिंता है कि दोनों अच्छी शुरुआत के बावजूद टीम के लिए बड़ी पारियां नई खेल पा रही हैं. उन्होंने कहा कि तीसरे और आखिरी मैच में हम ऐसा करना चाहेंगे. Also Read - England Women vs India Women, 3rd T20I: भारतीय महिला टीम के पास T20 सीरीज जीतने का मौका, Smriti Mandhana ने कहा- हमें अपनी बल्लेबाजी पर काम करना होगा

Also Read - ICC Rankings: वनडे में दूसरे स्‍थान पर खिसकी मिताली राज, शेफाली वर्मा अब भी नंबर-1 टी20 बल्‍लेबाज

उन्होंने कहा, ‘मैं पिछले दो साल से टी20 फॉर्मेट में उसके साथ पारी का आगाज कर रही हूं. तीनों फॉर्मेट में उसके साथ पारी का आगाज करना रोमांचक है. हम एक दूसरे को जानते हैं, आपस में बात करते हैं. इससे काफी मदद मिलती है विशेषकर टी20 प्रारूप में. लेकिन हमें 15-16 ओवर तक खेलने के बारे में बात करनी होगी.’

हरमनप्रीत कौर की अगुआई वाली टीम ने दूसरे मैच में अंतिम ओवरों में शानदार बॉलिंग और फील्डिंग की बदौलत 8 रन से जीत दर्ज की. होव में हुए इस मुकाबले में इंग्लैंड ने 149 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए 5.4 ओवर में 3 रन आउट सहित 6 विकेट 31 रन पर गंवाए दिए थे.

मंधाना ने कहा, ‘अंतिम पांच ओवर में हमने जिस तरह वापसी की वह हमारे गेंदबाजों और क्षेत्ररक्षकों के जज्बे को दिखाता है. इस आत्मविश्वास से हमें कल का मैच जीतने के लिए अपना शत प्रतिशत देने में मदद मिलेगी. लेकिन वह नया दिन होगा. इस जीत से हम कई प्रारूप की सीरीज बराबर करा पाएंगे.’

मंधाना ने टीम विशेषकर गेंदबाजी इकाई पर सकारात्मक प्रभाव डालने का श्रेय मुख्य कोच रमेश पोवार को दिया. मंधाना ने अनुभवी ऑफ स्पिन ऑलराउंडर स्नेह राणा की तारीफ की, जिन्होंने इस सीरीज में वापसी करते हुए शानदार प्रदर्शन किया.

उन्होंने 17 साल की रिचा घोष की भी सराहना की, जिन्हें टी20 इंटरनेशनल सीरीज में विकेटकीपर की भूमिका निभाने को कहा गया और उन्होंने अपने प्रदर्शन से प्रभावित किया है.

(इनपुट: भाषा)