भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली का बल्ला न्यूजीलैंड दौरे पर खामोश रहा. कोहली ने न्यूजीलैंड के मौजूदा दौरे पर 5 टी-20, 3 वनडे और 2 मैचों की टेस्ट सीरीज खेली लेकिन उनके बल्ले से एक भी शतक नहीं निकला. हाल में संपन्न 2 मैचों की टेस्ट सीरीज की 4 पारियों में कोहली का स्कोर 02, 19, 03, और 14 रहा. टीम इंडिया को 0-2 से टेस्ट सीरीज गंवानी पड़ी. ऐसे में कोहली की फॉर्म को लेकर सवाल उठने लगे हैं हालांकि पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक ने कोहली का बचाव किया है और कहा है कि कोहली की फॉर्म को लेकर चिंता की कोई बात नहीं है. इंजमाम ने भरोसा जताया है कि कोहली मजबूती से वापसी करेंगे. Also Read - IPL स्थगित होते ही कोरोना से जुड़े राहत कार्यों में जुटे Virat Kohli, तस्वीरें वायरल

’21 वर्षीय पेसर इशान पोरेल की अंदर आती गेंदों पर विराट कोहली भी हो सकते हैं आउट’ Also Read - ICC WTC Final: कोरोना को देखते हुए जल्दी इंग्लैंड रवाना होगी टीम इंडिया

इंजमाम ने अपने यूटूयब चैनल पर कहा, ‘कई लोग कोहली की तकनीक और कई तरह की बातें कर रहे हैं. मैं इन सभी बातों से हैरान हूं. उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 70 शतक जमाए हैं, आप कैसे उनकी तकनीक पर सवाल उठा सकते हैं. एक क्रिकेटर के तौर पर मैं कह सकता हूं कि खिलाड़ियों के करियर में ऐसा दौर आता है जब वह काफी प्रयासों के बाद भी रन नहीं कर पाते. मोहम्मद युसूफ की बैकलिफ्ट ऊंची थी. उनका बल्ला गली की दिशा से नीचे आता था. जब उनकी फॉर्म खराब हुई तो लोगों ने उनकी तकनीक को लेकर बातें करना शुरू कर दीं. जब वो मेरे पास आए तो मैंने कहा कि आपने इस तकनीक से इतने रन कैसे किए.’ Also Read - IPL स्‍थगित होने के बाद विराट कोहली पत्‍नी अनुष्‍का और बेटी संग पहुंचे घर, वायरल हुए पिक्‍चर्स

महेंद्र सिंह धोनी ने बड़े शॉट लगाकर फैंस का किया मनोरंजन, ‘धोनी-धोनी’ के नारे से गूंज उठा स्टेडियम

दाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने कहा, ‘टीम अच्छा नहीं कर रही है. अगर कोहली फेल होते हैं तो, अन्य खिलाड़ियों का क्या? यह खेल का हिस्सा है और इसे मंजूर किया जाना चाहिए.’ इंजमाम ने कहा कि कोहली को अपनी तकनीक में किसी तरह का बदलाव करने की जरूरत नहीं है.

उन्होंने कहा, ‘किसी बात की चिंता करने की जरूरत नहीं है. यह दौर भी चला जाएगा. मैं तकनीक के बारे में बात भी करना नहीं चाहता. विराट को अपनी तकनीक नहीं बदलनी चाहिए. वह मजबूत मानसिकता के खिलाड़ी हैं. उन्हें परेशान होने की जरूरत नहीं है. वह मजबूती से वापसी करेंगे.’ भारतीय टीम 12 मार्च से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की घरेलू वनडे सीरीज खेलेगी.