अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOC) के सदस्य डिक पाउंड के हालिया बयान, जिसमें उन्होंने साफ कहा है कि टोक्यों में 24 जुलाई से शुरू होने वाले ओलंपिक खेलों को एक साल के लिए स्थगित कर दिया है, पर अब भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) की ओर से प्रतिक्रिया आई है। आईओए का कहना है कि पाउंड का बयान आधिकारिक नहीं है और ओलंपिक-2020 के संबंध में फैसला आने वाले चार हफ्तों के अंदर लिया जाएगा। Also Read - अगर IPL 2020 टूर्नामेंट को आगे नहीं बढ़ाया गया तो यह बहुत बड़ी 'नाकामी' होगी : बटलर

आईओए के महासचिव राजीव मेहता ने आईएएनएस से कहा, “हमें आईओसी से इस संबंध में कोई आधिकारिक दस्तावेज नहीं मिला है। अभी तक आईओसी का जो रूख है वो ये है कि वो आने वाले चार सप्ताह में इस पर फैसला लेगी। मैं पाउंड के बयान को आधिकारिक बयान नहीं समझता।” Also Read - Coronavirus Alert: आधे से ज्यादा मरीजों में नहीं दिखते कोरोनावायरस के लक्षण, पर होता है उन्हें संक्रमण, कितना बढ़ा खतरा?

यूएसए टुडे को दिए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में पाउंड ने कहा, “आईओसी के पास मौजूद जानकारी के आधार पर खेलों को स्थगित करने का फैसला लिया गया है। किन पैमानों पर आगे बढ़ना है इस पर फैसला नहीं लिया गया है, लेकिन मैं इतना जानता हूं कि खेल 24 जुलाई को शुरू नहीं होंगे” Also Read - Coronavirus: चार साल के मासूम ने साइकिल खरीदने के लिए जुटाए थे पैसे, मंत्री के हाथों में सौंप दिए

पाउंड ने अपने बयान में ये भी स्पष्ट कहा था कि समिति जल्द ही खेल रद्द किए जाने की आधिकारिक घोषणा करेगी लेकिन अब तक ऐसी कोई सूचना नहीं आई है। यानि कि भारतीय ओलंपिक संघ फिलहाल केवल इंतजार कर सकता है।