आईपीएल के दसवें सीजन का समापन हो चुका है. इस सीजन में कई युवा भारतीय खिलाड़ियों ने अपनी छाप छोड़ी है. जिनके बारे में कहा जा रहा है कि वे टीम इंडिया के भविष्य के सितारे हैं और आने वाले सालों क्रिकेट की दुनिया पर अपनी छाप छोड़ेंगे. इस लिस्ट में कई नाम हैं, जिन्होंने अपने शानदार प्रदर्शन से सबका दिल जीता. आइए जानें इस साल के आईपीएल में सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाले पांच भारतीय युवा खिलाड़ियों को.

1. वॉशिंगटन सुंदरः तमिलनाडु के इस युवा ऑफ स्पिनर ने सब पर अपनी छाप छोड़ी. अश्विन के चोटिल होने पर उन्हें पुणे की टीम में जगह दी गई थी लेकिन वह पुणे के स्टार गेंदबाज शामिल हुए. महज 17 साल की उम्र में उन्होंने क्वॉलिफायर में मुंबई के खिलाफ 4 ओवर में 16 रन देकर 3 विकेट झटके और आईपीएल इतिहास में सबसे कम उम्र में मैन ऑफ मैच जीतने वाले खिलाड़ी बने. फाइनल में भी उन्होंने मुंबई के खिलाफ 4 ओवर में 13 रन देकर सबसे किफायती गेंदबाजी का रिकॉर्ड बनाया.

2. ऋषभ पंतः इस आईपीएल में पंत ने अपनी शानदार प्रतिभा से सबको प्रभावित किया. उन्होंने 165.61 की स्ट्राइक रेट से 14 मैचों में 366 रन बनाए और गुजरात के खिलाफ महज 43 गेंदों में 97 रन की जो पारी खेली उसे लंबे समय तक याद रखा जाएगा. इस विकेटकीपर बल्लेबाज तो टीम इंडिया के भविष्य का स्टार और धोनी का विकल्प कहा जा रहा है.

3. नीतीश राणाः मुंबई इंडियंस को प्लेऑफ में पहुंचाने में नीतीश राणा की भूमिका भी अहम रही. स्टार बल्लेबाजों से भरी मुंबई की टीम में उन्होंने अपनी अलग पहचान बनाई और 12 पारियों में 125.13 की स्ट्राइक रेट से 333 रन बनाए. उन्हें इस सीजन की खोज कहा जा सकता है.

4. राहुल त्रिपाठीः पुणे के ओपनर राहुल ने अपनी धमाकेदार बैटिंग से सबका ध्यान अपनी ओर खींचा. 26 साल के इस ओपनर ने 14 पारियों में 146.44 की स्ट्राइक रेट से 391 रन बनाए. कोलकाता के खिलाफ उन्होंने 52 गेंदों पर 93 रन की जो आतिशी पारी खेली वह इस आईपीएल की सर्वश्रेष्ठ पारियों में से एक है. निश्चित तौर पर टीम इंडिया के लिए उनका बुलावा आने में अब देर नहीं है.

5. बासिल थंपीः गुजरात लायंस के लिए खेले केरल के इस तेज गेंदबाज ने अपनी की छाप सब पर छोड़ी. उन्होंने 12 मैचों में 11 विकेट झटके और 29 रन देकर 3 विकेट लेना उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा. उन्हें आईपीएल 10 के एमर्जिंग प्लेयर अवॉर्ड से नवाजा गया.