हैदराबाद।

इंडियंस प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण के खिताबी मैच में मुंबई इंडियंस को मिली जीत पर खुशी जताते हुए दिग्गज खिलाड़ी और टीम के पूर्व खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर ने कहा कि चैंपियन हमेशा चैंपियन ही रहता है. राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में रविवार रात खेले गए इस रोमांचक मैच में मुंबई ने राइजिंग पुणे सुपरजाएंट को केवल एक रन से हराया और तीसरी बार इस खिताब पर कब्जा जमाया.

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी मुंबई ने निर्धारित 20 ओवरों में आठ विकेट खोकर पुणे के सामने 130 रनों का लक्ष्य रखा और अपने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर पुणे को निर्धारित समय में छह विकेट लेकर 128 रनों पर रोक दिया.

सचिन ने इस जीत पर खुशी जताते हुए कहा, ‘मैं हमेशा से इस बात पर यकीन करता आया हूं कि चैंपियन हमेशा चैंपियन ही रहता है. शानदार जीत. पहली पारी के बाद मिले ब्रेक के दौरान हमने कुछ चीजों पर चर्चा की. टीम के कोच महेला जयवर्धने ने खिलाड़ियों को समझाया, जिसकी उस समय सख्त जरूरत थी. हमें सही चीजें ही सोचनी चाहिए और अगर आप उन्हें लागू करते हैं, तो आपके प्रदर्शन में वह चीज नजर आती है. हमें भरोसा था कि हम अपने लक्ष्य को हासिल कर लेंगे और यहीं रोहित शर्मा और उनकी टीम के सदस्यों ने किया.”

मुंबई के कोच जयवर्धने ने कहा, ‘खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया. खासकर वरिष्ठ खिलाड़ियों ने, जो पूरे मैच में खुद को शांत रखते रहे। यह एक मैराथन थी. हमें यह नहीं देखना चाहिए कि हमने कैसे शुरुआत की, बल्कि हम कैसे एक मैच को समाप्त करते हैं वह ज्यादा जरूरी है. हमें पता था कि टीम के अनुभवी और वरिष्ठ गेंदबाज मैच के दबाव को संभाल लेंगे और इसीलिए, हमने पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया.’