कप्तान गौतम गंभीर और सुनील नारायण के बीच पहले विकेट के लिए हुई तूफानी साझेदारी की बदौलत कोलकाता नाइटराइडर्स ने गुरुवार को किंग्स इलेवन पंजाब को 8 विकेट से हराकर अपने घर में जीत के साथ आगाज किया। ये सीजन में केकेआर की तीन मैचों में दूसरी जीत है। जीत के लिए मिले 171 रन के टारगेट को कोलकाता ने 2 विकेट गंवाकर 16.3 ओवरों में 21 गेंदें बाकी रहते आसानी से हासिल कर लिया। ये इस सीजन में पंजाब की तीसरे मैच में पहली हार है।

गंभीर 49 गेंदों पर 11 चौकों की मदद से 72 रन बनाकर नाबाद रहे जबकि मनीष पाण्डेय ने भी 16 गेंदों पर 2 चौकों और 1 छक्के की मदद से 25 रन की नाबाद पारी खेली। इसके अलावा रॉबिन उथप्पा ने 16 गेंदों पर 3 चौके और 1 छक्के की मदद से 26 और सुनील नारायण ने 18 गेंदों पर 4 चौकों और 3 छक्के की मदद से 37 रन की पारी खेली।

केकेआर के लिए कप्तान गंभीर ने नाबाद अर्धशतकीय पारी खेली जबकि सुनील नारायण ने महज 18 गेंदों पर 37 रन की पारी खेली। इन दोनों ने पहले विकेट के लिए महज 5.4 ओवर में 76 रन की तूफानी साझेदारी की। गंभीर ने 16 गेंदों पर 31 और नारायण ने 18 गेंदों पर 37 रन ठोकते हुए पहले विकेट के लिए कोलकाता के लिए 5.4 ओवर में 76 रन की तूफानी साझेदारी की।

गौतम गंभीर ने केकेआर के लिए 49 गेंदों में 72 रन की जोरदार पारी खेली (BCCI)

गौतम गंभीर ने केकेआर के लिए 49 गेंदों में 72 रन की जोरदार पारी खेली (bcci)

 

इस तूफानी साझेदारी की बदौलत कोलकाता ने आईपीएल इतिहास में अपना सबसे बड़ा और संयुक्त रूप से दसवां सबसे बड़ा पावरप्ले स्कोर बनाया। कोलकाता ने पावरप्ले के 6 ओवर में 1 विकेट पर 76 रन का स्कोर बनाते हुए इस रिकॉर्ड को अपने नाम किया। आईपीएल में पावरप्ले में सबसे बड़े स्कोर का रिकॉर्ड चेन्नई सुपरकिंग्स के नाम दर्ज है जोकि उसने 2014 में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ 6 ओवर में 2 विकेट पर 100 रन बनाते हुए बनाया था।

सबको चौंकाते हुए सुनील नारायण ने 18 गेंदों में 37 रन ठोके (bcci)

सबको चौंकाते हुए सुनील नारायण ने 18 गेंदों में 37 रन ठोके (bcci)

 

नारायण को केकेआर ने ओपनर के तौर पर उतार कर सबकों चौंका दिया लेकिन उन्होंने जोरदार पारी खेलते हुए इस दांव को सही साबित कर दिखाया। 37 रन की पारी के साथ सुनील नारायण ने टी20 क्रिकेट में अपना सबसे बड़ा स्कोर बनाया और अब तक खेले अपने 218 टी20 मैचों में उनका उच्चतम स्कोर 34 रन था।

इससे पहले टॉस हारकर पहले बैटिंग करने उतरी किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने 20 ओवर में 9 विकेट पर 170 रन बनाए। पंजाब का कोई भी बल्लेबाज उमेश यादव की शानदार गेंदबाजी के आगे टिक नहीं सका।

उमेश यादव ने पंजाब के लिए सबसे ज्यादा 33 रन देकर 4 विकेट और क्रिस वोक्स ने 30 रन देकर 2 विकेट झटके। इसके अलावा पीयूष चावला और सुनील नारायण ने भी मनन वोहरा और मार्कस स्टोइनिस के महत्वपूर्ण विकेट झटके।

पंजाब की तरफ से ओपनरों हाशिम अमला ने 25 और मनन वोहरा ने 28 रन की पारी खेली। इन दोनों ने 5.1 ओवरों में 53 रन जोड़ते हुए पंजाब को तेज शुरुआत दिलाई। लेकिन 53 के स्कोर पर चावला ने मनन को बोल्ड कर दिया। इसके बाद 66 के स्कोर पर स्टोइनिस (9) को नारायण ने बोल्ड करके पंजाब (28) को दूसरा झटका दिया। 97 के स्कोर पर पंजाब को अमला (25) के रूप में तीसरा झटका लगा। 98 के स्कोर पर कप्तान मैक्सवेल (25) भी उमेश यादव की गेंद पर आउट हो गए।

पंजाब के लिए मिलर ने 19 गेंदों पर 28 रन की तेज पारी खेली (bcci)

पंजाब के लिए मिलर ने 19 गेंदों पर 28 रन की तेज पारी खेली (bcci)

 

निचले क्रम में मिलर और रिद्धिमान साहा ने जोरदार बल्लेबाजी की और पांचवें विकेट के लिए 57 रन जोड़ते हुए पंजाब का स्कोर 150 के पार पहुंचा दिया। मिलर ने 19 गेंदों पर 2 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 28 और साहा ने 17 गेंदों पर 2 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 25 रन बनाए। लेकिन इन दोनों के आउट होते ही पंजाब की बल्लेबाजी ढह गई और 20 ओवर में 9 विकेट पर 170 रन ही बना सकी।