मुंबई इंडियंस के खिलाफ पहले क्वॉलिफायर में अपनी घातक गेंदबाजी के दम पर पुणे सुपरजाएंट को फाइनल में पहुंचाने वाले स्पिन गेंदबाज वॉशिंगटन सुंदर ने इतिहास रच दिया है.

सुंदर ने मुंबई के खिलाफ 4 ओवर में 16 रन देकर 3 विकेट झटके और उन्हें मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया. सुंदर ने 17 साल 223 दिन की उम्र में मैन ऑफ द मैच जीता और वह आईपीएल के इतिहास में सबसे कम उम्र में मैन ऑफ द मैच बनने वाले खिलाड़ी बन गए.

इतना ही नहीं सुंदर ने 17 साल 233 दिन की उम्र में तीन विकेट झटककर आईपीएल में सबसे कम उम्र में तीन विकेट लेने का रिकॉर्ड बनाया, उनसे पहले ये रिकॉर्ड 18 साल 44 दिन में 3 विकेट झटकने वाले राजस्थान रॉयल्स के गेंदबाज कामरान खान के नाम था. (IPL 2017: पुणे को फाइनल में पहुंचाने वाले 17 वर्षीय गेंदबाज को कैसे मिला ‘वॉशिंगटन नाम’, जानिए)

कौन हैं वॉशिंगटन सुंदर
वॉशिंगटन सुंदर का जन्म 5 अक्टूबर 1999 को चेन्नई मैं हुआ था. 2016 में महज 17 साल की उम्र में उनका चयन वर्ल्ड कप के लिए भारत की अंडर-19 टीम में हुआ था. उन्होंने अपना पहला प्रथम श्रेणी मैच 6 अक्टूबर 2016 को मुंबई के खिलाफ खेला था. वह अब तक पांच प्रथम श्रेणी मैच खेल चुके हैं. वह स्टार ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के शहर से हैं और उन्हें पुणे टीम में जगह भी अश्विन के चोटिल होने पर मिली.

सुंदर के पिता भी क्रिकेटर थे और सुंदर के पहले कोच भी उनके पिता ही थे. सुंदर का नाम भी उनके पिता ने अपने मेंटर मिस्टर वॉशिंगटन के नाम पर रखा.

खास बात ये है कि सुंदर दाएं हाथ से गेंदबाजी और बाएं हाथ से बल्लेबाजी करते हैं.