पुणे। चेन्नई सुपरकिंग्स के मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने कहा कि उन्हें मौजदा इंडियन प्रीमियर लीग में शानदार प्रदर्शन करने के मद्देनजर यहां की पिच के अनुरूप ढलने के लिये कड़ी मेहनत करनी होगी क्योंकि अब उनका घरेलू मैदान यही होगा. चेन्नई की टीम अपने मूल घरेलू मैदान पर सिर्फ एक ही मैच खेल पायी थी क्योंकि आईपीएल आयोजकों ने कावेरी मुद्दे पर विरोध और मैच में बाधा की धमकियों के चलते सारे मैच यहां पुणे में कराने का फैसला किया जिससे वह घरेलू मैदान के फायदे को गंवा बैठी.

फ्लेमिंग ने कहा कि उनके खिलाड़ियों को पुणे की पिच का आदी होने के लिये समय की जरूरत होगी. उन्होंने कहा कि हमें सतर्क रहना होगा. हमारे लिये सबसे बड़ी चीज यहां की पिच को जानना होगा क्योंकि यह चेन्नई की पिच जैसी नहीं है. हमने ऐसी टीम चुनी थी जो चेन्नई में खेलती इसलिये हम भी इस पिच को उतना ही जानते हैं जितना अन्य खिलाड़ी. उन्होंने कहा, हमें घरेलू मैदान का फायदा उठाने के लिये अतिरिक्त मेहनत करनी होगी. हमने आज भी कुछ सीखा और हमारे पास सिर्फ एक दिन है कि हम सुनिश्चित करें कि हमारे लिये सही संयोजन क्या होगा.

मुंबई से मिली हार के बाद जो धोनी ने कहा, वो हर क्रिकेट फैन को पढ़ना चाहिए

मुंबई से हारा चेन्नई

बता दें कि पिछले मैच में चेन्नई सुपरकिंग्स को मुंबई इंडियंस के हाथों मैच गंवाना पड़ा था. इसके साथ ही चेन्नई के 7 मैचों में 5 जीत के साथ 10 अंक हो गए. हालांकि वह अब भी अंकतालिका में दूसरे नंबर पर बनी हुई है. इस मैच में सुरेश रैना ने 75 रनों की पारी खेली थी. लेकिन उनकी पारी पर मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा की पारी भारी पड़ गई. रोहित ने फॉर्म में वापसी करते हुए ताबड़तोड़ 56 रनों की नाबाद पारी खेली थी.

चेन्नई के 10 प्वाइंट

चेन्नई का अब तक का सफर बेहद शानदार रहा है. उसने 7 में से दो मैच ही गंवाए हैं. पहला मैच उसने पंजाब के खिलाफ मोहाली में गंवाया था. जबकि दूसरा मैच पुणे में मुंबई के खिलाफ गंवाया जो अंकतालिका में सबसे नीचे चल रही है. पूर्व चैंपियन मुंबई ने इस मैच में जीत के साथ अपना हौसला बुलंद किया है. अगर वह अगले 6 मैच नहीं जीतती है तो प्ले ऑफ की दौड़ से भी बार हो जाएगी.