मुंबई: सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान केन विलियमसन भले ही अपनी टीम को खिताब नहीं दिला पाए लेकिन न्यूजीलैंड के इस बल्लेबाज ने आईपीएल-11 में सर्वाधिक 735 रन बनाकर यहां आखिर में ‘औरेंज कैप’ हासिल की जबकि किंग्स इलेवन पंजाब के तेज गेंदबाज एंड्रय टाई को सर्वाधिक विकेट लेने के लिए ‘पर्पल कैप’ मिली. विलियमसन ने 17 मैचों में 52.50 की औसत से 735 रन बनाए जिसमें आठ अर्धशतक भी शामिल हैं. उनके बाद दिल्ली डेयरडेविल्स के ऋषभ पंत 684 रन बनाकर दूसरे स्थान पर रहे. डेयरडेविल्स की टीम प्लेआफ में जगह बनाने में नाकाम रही थी. Also Read - Rishabh Pant ने तोड़ा MS Dhoni का रिकॉर्ड, बनाए सबसे तेज 1000 रन

विलियमसन इस तरह से आईपीएल के किसी एक सत्र में 700 से अधिक रन बनाने वाले पांचवें बल्लेबाज बने. उनसे पहले क्रिस गेल, माइकल हसी, विराट कोहली और डेविड वार्नर ने यह उपलब्धि हासिल की थी. गेल ने दो बार यह कारनामा किया. किंग्स इलेवन पंजाब की टीम प्लेआफ में नहीं पहुंच पाई लेकिन उसके ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज टाई सर्वाधिक विकेट लेने के लिये मिलने वाली पर्पल कैप का पुरस्कार हासिल करने में सफल रहे. टाई ने 14 मैचों में 24 विकेट लिये. उनके बाद सनराइजर्स हैदराबाद के राशिद खान (21 विकेट) और सिद्धार्थ कौल (21 विकेट) का नंबर रहा. Also Read - स्ट्रॉबेरी की खेती कर रहे हैं MS Dhoni, देखें VIDEO, आखिर क्यों बोले- अब खेत पर नहीं जाऊंगा

गौरतलब है कि शेन वॉटनस के तूफानी शतक की बदौलत चेन्नई सुपर किंग्स ने आईपीएल 2018 का फाइनल मैच 8 विकेट से जीत लिया. चेन्नई ने तीसरी बार आईपीएल में खिताबी मुकाबला जीता. मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ खेले गए मैच में टीम ने शानदार प्रदर्शन किया. हैदराबाद ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट खोकर 179 रन का लक्ष्य दिया. इसके जवाब में चेन्नई ने 2 विकेट खोकर मैच जीत लिया. इस दौरान शेन वॉटसन ने खतरनाक बल्लेबाजी करते हुए नाबाद 117 रन बनाए. Also Read - पाकिस्तान को हरा न्यूजीलैंड बनी शीर्ष टेस्ट टीम; जानें किस तरह नंबर-1 पर वापसी कर सकती है टीम इंडिया