पुणे। गुरुवार को जहां पंजाब किंग्स इलेवन के क्रिस गेल ने आईपीएल सीजन 11 का पहला शतक जमाया तो आज चेन्नई सुपरकिंग्स के शेन वॉटसन ने सेंचुरी जमाई. वॉटसन ने अपनी पुरानी टीम राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ शतक ठोका. ओपनिंग करने उतरे वॉटसन शुरू से ही आक्रामक अंदाज में खेल रहे थे. उनके साथी खिलाड़ी आते और जाते रहे लेकिन वॉटसन ने दमदार खेल जारी रखा.

IPL 2018: इस अनजान खिलाड़ी के पास पर्पल कैप, ऑरेंज कैप पर सबसे धाकड़ बल्लेबाज का कब्जा

IPL 2018: इस अनजान खिलाड़ी के पास पर्पल कैप, ऑरेंज कैप पर सबसे धाकड़ बल्लेबाज का कब्जा

वॉटसन ने 51 गेंदों पर अपना शतक पूरा किया. इस पारी में उन्होंने 9 चौके और 6 छक्के जमाए. उन्होंने अपना अर्धशतक 28 गेंदों पर जमाया था. इससे पहले वह दो बार आईपीएल में शतक ठोक चुके हैं. वॉटसन अकेले ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने दो बार आईपीएल के इतिहास में मोस्ट वैल्युबल प्लेयर का खिताब जीता है.

8 साल तक राजस्थान टीम में थे

वॉटसन ने इससे पहले 8 साल तक राजस्थान रॉयल्स की तरफ से खेला था और 2साल टीम की कप्तानी भी की. आईपीएल का पहला खिताब राजस्थान ने ही जीता था तब वॉटसन ही मैन ऑफ द टूर्नामेंट बने थे. आईपीएल के हर सीजन में उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया. राजस्थान पर बैन लगने के बाद वह आरसीबी की तरफ से खेलने लगे लेकिन कुछ खास नहीं कर सके. इस बार चेन्नई की तरफ से उनका बल्ला खूब रन उगल रहा है.

वॉटसन को इस बार चेन्नई ने खरीदा, जबकि पिछली बार वह बैंगलोर की टीम से खेले थे. वॉटसन पर चेन्नई का दांव सटीक बैठा और इसका नतीजा भी आज दिख गया. ऑलराउंडर वॉटसन बॉलिंग में भी अपना कमाल दिखाते हैं. इस शतक के साथ वह ऑरेंज कैप की दौड़ में शामिल हो चुके हैं जिस पर विराट कोहली का कब्जा है.