सिडनी: क्लब क्रिकेट पर देश को अधिक तवज्जो देते हुए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) विश्व कप टीम में चुने गए अपने खिलाड़ियों को 2019 इंडियन प्रीमियर लीग के अंतिम हफ्तों में खेलने की स्वीकृति नहीं देगा जिससे कि वे इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट की अच्छी तैयारी कर सकें. लुभावनी टी20 लीग आईपीएल की शुरुआत इस बार निर्धारित समय से पहले होगी जिससे कि खिलाड़ियों को 30 मई से इंग्लैंड में शुरू हो रहे एकदिवसीय विश्व कप से पहले आराम और तैयारी का पर्याप्त समय मिल सके. Also Read - पाकिस्तान के खिलाफ वनडे मैच में नहीं खेलेंगे महमूदुल्लाह, ये है वजह

आईपीएल की शुरुआत मार्च में करने का मतलब होगा कि इसका अंतिम चरण ऑस्ट्रेलिया के घरेलू सत्र और पाकिस्तान के खिलाफ उसकी एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला से भी टकराएगा. शेफील्ड शील्ड का अंतिम दौर 20 से 23 मार्च तक होगा. पाकिस्तान के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला की तारीखों की पुष्टि नहीं हुई है लेकिन इसका आयोजन 15 से 29 मार्च के बीच होगा. Also Read - टेस्ट, टी20 के बाद सरफराज अहमद से छिन सकती है वनडे टीम की कप्तानी, इस खिलाड़ी को मिलेगी जिम्मेदारी

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने स्पष्ट कर दिया है कि गत चैंपियन टीम के लिए विश्व कप प्राथमिकता है और आईपीएल में खेलने की स्वीकृति हासिल करने के लिए खिलाड़ियों को अपनी शेफील्ड शील्ड और राष्ट्रीय प्रतिबद्धता पूरी करनी होगी. क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने साथ ही कहा कि विश्व कप के लिए चुने गए 15 खिलाड़ियों को मई की शुरुआत में टूर्नामेंट पूर्व शिविर में भी हिस्सा लेना होगा जिसका मतलब हुआ कि वे आईपीएल के अंतिम दो से तीन हफ्तों से बाहर रह सकते हैं. Also Read - टी20 विश्व कप खेलने की उम्मीद आईपीएल प्रदर्शन पर निर्भर करती हैं : सुरेश रैना

क्रिकेट आस्ट्रेलिया की अंतरिम ईजीएम टीम परफोर्मेंस बेलिंडा क्लार्क ने कहा, ‘यह मुश्किल समय है क्योंकि क्रिकेट विश्व कप के कारण आईपीएल की तारीखों को आगे खिसकाया गया है और यह हमारे घरेलू सत्र से टकरा रहा है. उन्होंने कहा कि हम शेफील्ड शील्ड का सम्मान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं जबकि यह भी सुनिश्चित करना चाहते हैं कि ऑस्ट्रेलिया की विश्व कप टीम की तैयारी अच्छी हो, साथ ही यह भी सुनिश्चित करना होगा कि जो खिलाड़ी खेलने के लिए फिट हैं उन्हें आईपीएल में हिस्सा लेने का मौका मिले.

उन्होंने कहा कि ऐसा करना आसान नहीं होगा, मुझे लगता है कि हमें उचित संतुलन बनाना होगा जिससे कि खिलाड़ी अपने विकल्पों पर विचार कर सकें और चुन सकें कि उनके और उनकी टीम के लिए क्या सही है. कोलकाता नाइट राइडर्स द्वारा रिलीज किए गए तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क पहले ही कह चुके हैं कि वे 2019 आईपीएल खिलाड़ी नीलामी के लिए खुद को उपलब्ध नहीं रखेंगे.