नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के एक अधिकारी ने बताया है कि 23 मार्च से शुरू होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण में होने वाले सभी मैचों की तारीख की घोषणा सोमवार को मुंबई में होने वाली प्रशासकों की समिति (सीओए) की बैठक के बाद की जा सकती है. बीबीसीआई ने फिलहाल, 23 मार्च से लेकर पांच अप्रैल तक होने वाले पहले 17 मैचों के कार्यक्रम के बारे में ही जानकारी दी है.

आईएएनएस से अधिकारी ने कहा, “ऐसा माना जा रहा है कि सोमवार को होने वाली सीओए की बैठक के बाद टूर्नामेंट के बाकी बचे कार्यक्रम की घोषणा कर दी जाएगी.” उन्होंने कहा, “आईपीएल सीओओ और उनकी टीम बहुत मेहनत कर रहे हैं और यह उनके ही प्रयास का नतीजा है कि इस साल बीसीसीआई टूर्नामेंट के पूरे सीजन का आयोजन भारत में कराने में सफल हो रही है.”

रहाणे को वर्ल्ड कप 2019 के लिए टीम इंडिया में शामिल होने की उम्मीद

पिछले साल की विजेता चेन्नई पहले मुकाबले में अपने घरेलू मैदान पर बेंगलोर से भिड़ेगी. बैठक में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के चेयरमैन शशांक मनोहर भी मौजूद होंगे और सीओए से बीबीसीआई एवं विश्व डोपिंग रोधी संस्था (वाडा) के बीच जारी विवाद पर चर्चा भी करेंगे.

आईसीसी ने वाडा के नियमों का पालन करने के लिए हामी भर दी है, लेकिन बीबीसीई उन शर्तो को पूरी तरह से मानने को तैयार नहीं है. आईसीसी के सीईओ डेविड रिचर्डसन ने कहा था, “मैं बीसीसीआई की मदद कर रहा हूं ताकि वे वाडा और नाडा के साथ इस विवाद को सुलझा पाएं. हमें लगता है कि 2028 के ओलम्पिक में क्रिकेट होना चाहिए, लेकिन यह तब तक नहीं होगा जब तक हम एकजुट नहीं होंगे.

धोनी की वजह से बचा ईशांत का करियर, तेज गेंदबाज का खुलासा

उन्होंने कहा, “अभी हमें बीसीसीआई को यह समझाने की जरूरत है कि क्रिकेट का ओलम्पिक होना हर मायने में सही है.” हालांकि, आईसीसी मुख्य कार्यकारी बैठक में उपस्थित बीसीसीआई अधिकारियों ने यह स्पष्ट कर दिया था कि वाडा को अलग परीक्षण एजेंसी का नाम देना होगा क्योंकि वे हाल में हुई कई गलतियों के कारण नाडा पर भरोसा नहीं कर सकते.