IPL 2020, Chennai Super Kings vs Mumbai Indians, 41st Match, Preview: चेन्नई सुपर किंग्स के सामने शुक्रवार को गत चैंपियन मुंबई इंडियंस के खिलाफ होने वाले मुकाबले में करो या मरो की स्थिति होगी। Also Read - BCCI AGM बैठक: 24 दिसंबर को आईपीएल की नई टीमों, टीम इंडिया की FTP पर होगी चर्चा

हालांकि कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मिली हार के बाद स्वीकार किया कि सीजन उनके लिए शायद खत्म हो चुका है लेकिन टीम अगर अपने बचे हुए चारों मैच जीत ले तो भी वो 14 अंक हासिल कर सकती है जिससे उन्हें अगर-मगर से प्लेऑफ में जगह बनाने का मौका मिल सकता है। Also Read - India vs Australia: स्टीव स्मिथ की सफलता का है ये राज, किया खुलासा

जैसा कि मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने कहा कि उनकी उम्रदराज खिलाड़ियों से भरी टीम पिछले दो सत्र में अच्छा करने के बाद अब चमक खोती जा रही है जिसने 2018 में खिताब जीता और फिर अगले साल फाइनल में प्रवेश किया। Also Read - Rohit Sharma की चोट को लेकर गौतम गंभीर ने तोड़ी चुप्पी, VVS Laxman ने भी जताई हैरानी

टीम की ताकत: 

टूर्नामेंट के शुरूआती मैच में मुंबई इंडियंस पर जीत हासिल करने के बाद उसके लिए चीजें खराब होती रही। टीम को राजस्थान रॉयल्स के हाथों करार शिकस्त झेलनी पड़ी और अब ड्वेन ब्रावो भी उसके साथ नहीं होंगे जो चोटिल होने के कारण टूर्नामेंट से बाहर हो गए।

राजस्थान के खिलाफ उसके बल्लेबाज जूझते दिखे और अब देखना बाकी होगा कि टीम नए खिलाड़ियों को मौका देगी या नहीं क्योंकि सोमवार को मिली हार के बाद धोनी ने इसका संकेत दिया था।

फॉफ डु प्लेसिस को छोड़ दें तो धोनी भी अन्य खिलाड़ियों की तरह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। टीम के लगातार केदार जाधव को खिलाने के फैसले की भी काफी आलोचना हुई जो जूझते नजर आए और अब ये देखना होगा कि उनकी जगह एन जगदीशन या रूतुराज गायकवाड़ को उतारा जाएगा या नहीं।

लेकिन टीम शानदार फार्म में चल रही मुंबई इंडियंस के खिलाफ होगी जो लगातार पांच मैचों में जीत के बाद शानदार लय में थी लेकिन किंग्स इलेवन पंजाब ने उसकी इस लय को तोड़ दिया और रविवार की रात दो सुपर ओवर में जीत हासिल की। चार बार की आईपीएल चैंपियन शानदार फार्म में हैं और गेंदबाजी अटैक में वैरिएशन की मौजूदगी से वो चेन्नई सुपर किंग्स के बल्लेबाजों के लिए बड़ी चुनौती बन सकते हैं जिनका आत्मविश्वास वैसे ही गिरा हुआ है।

शारजाह पर विकेट के धीमा होने से चीजें बदलती हुई दिख रही हैं। साथ ही मुंबई इंडियंस के लाइन में क्विंटन डि कॉक अच्छी फार्म में हैं जबकि रोहित शर्मा, सूर्यकुमार यादव और ईशान किशन ने भी अच्छा किया। इतना ही नहीं कीरोन पोलार्ड और हार्दिक पंड्या की ‘पावर हिटिंग’ ने भी तब मुंबई को बचाया जब उसके बड़े खिलाड़ी नहीं चले। कृणाल पंड्या ने भी कुछ अहम योगदान दिया और लेग स्पिनर राहुल चाहर के साथ कसी गेंदबाजी की।

मुंबई की गेंदबाजी इकाई अच्छा कर रही है लेकिन थिंक टैंक जेम्स पैटिनसन को नाथन कूल्टर नाइल की जगह लाने के बारे में सोच सकता है जो खर्चीले साबित हुए हैं। शुक्रवार को मैच में दो अंक से रोहित शर्मा की टीम प्ले आफ स्थान पक्का करने के करीब पहुंच जायेगी जबकि सुपर किंग्स अब तक के खराब सत्र का अंत अच्छी तरह करना चाहेगी जिसके पास अगर मगर से अब भी मौका है।

चेन्नई सुपर किंग्स:

महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), मुरली विजय, अंबाती रायुडू, फाफ डु प्लेसिस, शेन वाटसन, केदार जाधव, रविंद्र जडेजा, लुंगी एनगिडी, दीपक चाहर, पीयूष चावला, इमरान ताहिर, मिशेल सेंटनर, जोश हेजलवुड, शारदुल ठाकुर, सैम कुरेन, एन जगदीशन, केएम आसिफ, मोनू कुमार, आर साई किशोर, रुतुराज गायकवाड़ और कर्ण शर्मा।

मुंबई इंडियंस :

रोहित शर्मा (कप्तान), आदित्य तारे, अनमोलप्रीत सिंह, अनुकूल रॉय, क्रिस लिन, धवल कुलकर्णी, दिग्विजय देशमुख, हार्दिक पंड्या, इशान किशन, जेम्स पैटिनसन, जसप्रीत बुमराह, जयंत यादव, कीरोन पोलार्ड, क्रुणाल पंड्या, मिशेल मैकलेनगन, मोहसिन खान, नाथन कूल्टर-नाइल, प्रिंस बलवंत राय, क्विंटन डिकॉक, राहुल चाहर, सौरभ तिवारी, शेरफेन रदरफोर्ड, सूर्यकुमार यादव, ट्रेंट बोल्ट।