लगातार चार हार के बाद आखिरकार दिल्ली कैपिटल्स (DC) की टीम ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) को 6 विकेट से हराकर प्लेऑफ में दमदार पॉजिशन में एंट्री कर ली. दिल्ली ने प्लेऑफ में दूसरा स्थान हासिल किया है, जिससे फाइनल में पहुंचने के लिए उसके पास दो मौके होंगे. आज मैच की शुरुआत से ही दिल्ली कैपिटल्स पूरी तरह फोकस दिखी और उसने किसी भी मौके पर अपने हाथ में बाजी को निकलने नहीं दिया.Also Read - टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री से नाराज है BCCI

हालांकि इस हार के बावजूद आरसीबी को कोई नुकसान नहीं हुआ. उसने भी प्लेऑफ में तीसरे स्थान पर अपनी जगह पक्की कर ली है. अब प्लेऑफ में चौथा स्थान पर एक जगह बाकी है, जहां सनराइजर्स हैदराबाद और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच टक्कर है. इसका फैसला मंगलवार को मुंबई और हैदराबाद के मैच के बाद होगा. Also Read - IPL 2021: RCB कप्तान कोहली को यकीन- यूएई कि पिचों पर फायदेमंद साबित होंगे हसारंगा और चमीरा

दिल्ली की जीत में इस जीत में इन 5 खिलाड़ियों का योगदान खास रहा. आप भी जानें ये रहे दिल्ली की जीत के 5 हीरो. Also Read - Anil Kumble नहीं बनेंगे हेड कोच, VVS Laxman को मिल सकता है ऑफर!

दिल्ली कैपिटल्स ©BCCI/IPL

दिल्ली कैपिटल्स ©BCCI/IPL

कगिसो रबाडा ने शुरुआत से बनाया दबाव
साउथ अफ्रीकी गेंदबाज कगिसो रबाडा (Kagiso Rabada) ने शुरुआत से ही दबाव बनाने का काम बखूबी किया. रबाडा उनके इनफॉर्म बल्लेबाज देवदत्त पडीक्कल को तो आउट नहीं कर पाए लेकिन दूसरे छोर से उन्होंने जोश फिलिप्स (12) को पृथ्वी साव के हाथों आउट कराकर रॉयल चैलेंजर्स को दबाव में ला दिया. इसके बाद रबाडा ने अंतिम ओवरों में भी शिवम दुबे (17) का विकेट तब हासिल किया, जब उनके बल्ले ने आग उगलना शुरू कर दी थी.

रविचंद्रन अश्विन ने दिलाई बड़ी सफलता
अश्विन ने इस मैच में भले ही एक विकेट हासिल किया हो. लेकिन उन्होंने जो विकेट झटका वह कप्तान विराट कोहली (29) का था, विराट को एक जीवनदान पहले ही मिल चुका था और दिल्ली को टेंशन थी कि कहीं विराट अब उनके लिए घातक न बन जाएं लेकिन अश्विन ने ऐसा होने नहीं दिया. इसके अलावा इस सीनियर स्पिन गेंदबाज ने रनों पर ब्रैक भी बखूबी लगाकर रखा. उन्होंने 4 ओवर में सिर्फ 18 रन खर्च किए.

एनरिच नोर्त्जे ने दिए 3 झटके
दिल्ली के स्पिनर्स आरसीबी को हाथ खोलने का मौका नहीं दिया. 16वें ओवर में जब देवदत्त पडीक्कल (50) जब आउट हुए तो आरसीबी का स्कोर सिर्फ 112 ही था. उस पर इस मैच को जीतने के लिए दबाव बढ़ता ही जा रहा था. यहां से नोर्त्जे ने मोर्चा संभाल लिया और आरसीबी को 3 झटके दिए. उन्होंने क्रिस मॉरिस (0) और इसुरु उडाना (4) को भी अपना शिकार बनाया. इस तेज गेंदबाज ने 4 ओवर में 33 रन देकर 3 विकेट अपने नाम किए. उन्हें इस दमदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया.

शिखर धवन ने दिखाई क्लास
दिल्ली की टीम को 153 रन का लक्ष्य मिला था. लेकिन उसकी पिछली 4 हार के बाद उस पर यह दबाव जरूर था कि वह आज बैटिंग में कोई गलती न करे. पृथ्वी साव (9) एक बार फिर फ्लॉप हो गए. लेकिन शिखर धवन भले पिछली 2 पारियों में खाता भी नहीं खोल पाए थे. लेकिन आज उन्होंने अपनी टीम को शिकायत को कोई मौका नहीं दिया. इस लेफ्टहैंडर बल्लेबाज ने 41 गेंदों में 54 रन (6 चौके) की अहम पारी खेलकर अपनी टीम को संकट से निकाल दिया.

अजिंक्य रहाणे ने भी किया खुद को साबित
इस टूर्नामेंट में अजिंक्य रहाणे पर भी दबाव था. उन्हें इससे पहले जितने भी मौके मिले वह खुद को साबित नहीं कर पा रहे थे. लेकिन दिल्ली ने आज एक बार फिर एक मुश्किल मैच में उन्हें प्लेइंग XI में मौका दिया और नंबर 3 पर बल्लेबाजी के लिए उतारा. रहाणे ने शुरुआत भले धीमी की. लेकिन फिर शिखर धवन के साथ ऐसी जुगलबंदी निभाई को उनकी यह जोड़ी दिल्ली को मैच में जीत की ओर ले गई. 46 गेंदों में 60 रन की पारी खेलकर रहाणे ने टीम में अपनी कीमत को सही साबित कर दिया. उन्होंने इस पारी के दौरान 5 चौके और 1 छक्का भी जमाया. रहाणे की इस पारी ने दिल्ली को प्लेऑफ राउंड से पहले काफी राहत की सांस लेने का मौका दिया होगा.