इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के 13वें सीजन के लिए यूएई रवाना होने से पहले दिल्ली कैपिटल्स (DC) फ्रेंचाइजी अपने भारतीय खिलाड़ियों के लिए दिल्ली में कैंप का आयोजन करना चाहती है। हालांकि इसे लेकर आखिरी फैसला रविवार को होने वाली आईपीएल गर्वनिंग काउंसिल की बैठक के बाद लिया जाएगा। Also Read - Corona Cases in UP: उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण से और 312 मरीजों की मौत, 15,747 नये मामले

दिल्ली कैपिटल्स के एक अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, “बीसीसीआई ने हमें तारीखों के बारे में बता दिया है लेकिन हम गर्वनिंग काउंसिल की बैठक से निकलने वाली कुछ और जानकारी का इंतजार कर रहे हैं। एक बार ये हो जाए, आखिरी फैसला लिया जाएगा। अभी तो हम 15 अगस्त से कैंप के बारे में सोच रहे हैं, लेकिन बैठक के बाद इसमें बदलाव हो सकता है। एक बार मालिकों को बीसीसीआई से निर्देश मिल जाएंगे तो हम तैयारी शुरू कर देंगे।” Also Read - फिर से शुरु हुआ IPL 2021 तो जरूर हिस्सा लेंगे इंग्लिश गेंदबाज जोफ्रा आर्चर

अधिकारी से जब पूछा गया कि क्या बैठक में लिए जाने वाले फैसलों का रणनीति पर असर पड़ सकता है तो उन्होंने कहा, “बैठक में इस संबंध में कई तरह की चीजें स्पष्ट हो जाएंगी कि यूएई में किस तरह से व्यवस्था होगी। इसके बाद हम जल्दी शहर में कैंप लगाने के बारे में सोच सकते हैं या फिर यहां इकट्ठा होकर जल्दी यूएई जाने के बारे में सोच सकते हैं। एक चीज साफ है कि विदेशी खिलाड़ी सीधे यूएई आएंगे।” Also Read - Viral Video:'लव यू जिंदगी' सुनते-सुनते कोरोना से हार गई ये युवा मां, हजारों दुआओं...

उन्होंने कहा, “हमें इस बारे में स्पष्टीकरण चाहिए कि बायो सिक्योर बबल किस तरह से काम करेगा, बीसीसीआई ने किस तरह से रोडमैप बनाया है और हमारे द्वारा बनाए गए ब्लूप्रिंट को किस तरह से इसमें शामिल किया जाएगा। लेकिन हां, जैसी अभी स्थिति है, उसे देखते हुए हम यूएई जाने से पहले छोटे कैम्प पर काम कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “कई भारतीय क्रिकेटर अपने फ्लैट्स में बंद हैं और विचार ये है कि धीरे-धीरे उन्हें लय में लाया जाए। ये लोग पेशेवर हैं इसलिए घर में लंबे समय तक रहने के बाद यह मानसिक पहलू की बात ज्यादा हो जाती है। साथ ही आपकी जगह पर कैम्प करने से मदद मिलती है।”

इस संबंध में जब दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (DDCA) के अधिकारियों से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि फ्रेंचाइजी की तरफ से कोई संदेश नहीं आया है, लेकिन संघ खिलाड़ियों की मेजबानी के लिए पूरी तरह से तैयार है।

डीडीसीए अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, “हमें दिल्ली कैपिटल्स से अभी तक कोई संदेश नहीं मिला है लेकिन कोटला में उनका स्वागत है। यह उनका घरेलू मैदान है और वो जब चाहें तब यहां आ सकते हैं।”