आईपीएल के खिताबी मुकाबले में जब दिल्ली और मुंबई की टीमें अपनी-अपनी जीत का जोर लगाएंगी तो इस मैच के दौरान तीन खिलाड़ी खुद को टूर्नामेंट का सबसे बेस्ट खिलाड़ी के रूप में साबित करने का जोर लगाते दिखाई देंगे. यह है ऑरेंज कैप और पर्पल कैप की लड़ाई. ऑरेंज कैप को हासिल करने के लिए शिखर धवन (Shikhar Dhawan) रेस में हैं, जबकि पर्पल कैप के लिए दिल्ली और मुंबई के दो दिग्गज फास्ट बोलर कगीसो रबाडा (Kagiso Rabada) और जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) एक-दूसरे से बाजी खेलते दिखाई देंगे.Also Read - T20 World Cup 2021: देखें- बुधवार को भारतीय क्रिकेट में ये रहीं 10 बड़ी बातें...

शिखर धवन के पास केएल राहुल को पछाड़ने का मौका
शिखर धवन की बात करें तो वह सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की फेहरिस्त में (603* रन) दूसरे स्थान पर हैं. वह पंजाब के कप्तान केएल राहुल (670) से 67 रन पीछे हैं. अगर गब्बर आज के मैच में कम से कम 68 रन बना देते हैं, तो ऑरेंज कैप पर उनका कब्जा होगा. Also Read - Major Dhyan Chand Khel Ratna Award: नीरज चोपड़ा, मिताली राज सहित 11 एथलीट खेल रत्‍न पुरुस्‍कार के लिए नामांकित

केएल राहुल ने बनाए हैं 670 रन Also Read - VIDEO: क्या पाकिस्तान के खिलाफ मैच में नो-बॉल पर आउट हुए थे केएल राहुल, जानें क्या है सच्चाई

शिखर ने अभी तक 16 मैच की 16 पारियों में 2 शतक और 4 हाफ सेंचुरी की मदद से 603* रन बना लिए हैं. वहीं केएल राहुल की टीम किंग्स XI पंजाब लीग स्टेज में ही टूर्नामें से बाहर हो गई और इसलिए केएल राहुल 14 पारियां ही यहां खेल पाएं. राहुल ने इन 14 पारियों में 1 शतक और 5 फिफ्टीज की बदौलत सर्वाधिक 670 रन बनाए.

कगीसो रबाडा और जसप्रीत बुमराह में पर्पल कैप की होड़
इसी तरह सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज को इस टूर्नामेंट में पर्पल कैप इनाम में दी जाती है. यहां मुकाबला बेहद दिलचस्प है. फिलहाल दिल्ली के कगीसो रबाडा 29* विकेटों के साथ टॉप पर हैं, जबकि मुंबई के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह 27* विकेट्स के साथ दूसरे स्थान पर हैं.

पर्पल कैप में कौन निकलेगा आगे कगीसो रबाडा या जसप्रीत बुमराह!

ये दोनों गेंदबाज पहला स्थान हासिल करने के लिए आज मैच में एक बार फिर पूरा-पूरा जोर लगाएंगे. जहां एक ओर बुमराह रबाडा को पीछे छोड़ने की कोशिश करेंगे वहीं रबाडा भी कुछ और विकेट हासिल कर इस अंतर को और बढ़ाना चाहेंगे ताकि बुमराह से ऊपर भी रह सकें.

इन खिलाड़ियों की आपसी होड़ इनकी टीमों को फायदा
फाइनल मैच में जब ये तीन खिलाड़ी को खुद को बेस्ट साबित करने का जोर लगाएंगे तो इससे इनकी टीमों को ही फायदा होगा. ये खिलाड़ी बैटिंग और बॉलिंग में खुद को श्रेष्ठ साबित करने के लिए अतिरिक्त जोर लगाएंगे, जिससे इनकी टीमों को इनके द्वारा किए गए प्रदर्शन से रनों और विकेटों का फायदा होगा, जिससे यह मैच और भी रोमांचक बना रहेगा.