दिल्ली कैपिटल्स (DC) के कप्तान श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) ने चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के खिलाफ 44 रन से आसान जीत का श्रेय पूरी टीम को देते हुए शुक्रवार को कहा कि कगिसो रबाडा (Kagiso Rabada) और एनरिच नॉर्टर्जे (Anrich Nortje) जैसे तेज गेंदबाजों की मौजूदगी में वो खुद को भाग्यशाली कप्तान मानते हैं।Also Read - IND vs SL: पहला वनडे जीतकर कप्तान Shikhar Dhawan ने की IPL की तारीफ

दिल्ली ने पहले बल्लेबाजी करते हुए तीन विकेट पर 175 रन बनाए और इसके बाद चेन्नई को सात विकेट पर 131 रन पर रोक दिया। दिल्ली की पारी का आकर्षण पृथ्वी शॉ के 64 रन रहे जबकि गेंदबाजी में कगिसो रबाडा (26 रन देकर तीन) और एनरिच नॉर्टर्जे (21 रन देकर दो) ने प्रभाव छोड़ा। Also Read - फिटनेस शिविर के लिए मुंबई की टीम में शामिल हुए श्रेयस अय्यर; अर्जुन तेंदुलकर को भी मिली जगह

अय्यर ने कहा, ‘‘मैं भाग्यशाली हूं कि हमारी टीम में रबाडा और नॉर्टर्जे जैसे तेज गेंदबाज हैं। उन्हें ये बताने की जरूरत नहीं पड़ती की क्या करना है। टीम का इकाई के तौर पर प्रदर्शन करना और एक दूसरे की सफलता का लुत्फ उठाना महत्वपूर्ण है।’’ Also Read - 72 साल के हुए सुनील गावस्कर ; वीवीएस लक्ष्मण, वीरेंद्र सहवाग ने 'लिटिल मास्टर' को दी जन्मदिन की शुभकामनाएं

उन्होंने कहा, ‘‘हमने आसानी से जीत दर्ज करने का फैसला किया था। हमने परिस्थितियों का अच्छी तरह से आकलन करने का फैसला किया था। विकेट धीमा खेल रहा था। सलामी बल्लेबाजों ने जिस तरह से शुरुआत की उससे हमारा मनोबल बढ़ा और हमने अच्छी तरह से अंत भी किया।’’

हालांकि दिल्ली की फील्डिंग अच्छी नहीं रही और उसने कुछ आसान कैच छोड़े लेकिन अय्यर ने अपने खिलाड़ियों का बचाव किया। अय्यर ने कहा, ‘‘रोशनी आंखों पर पड़ने के कारण कैच करना आसान नहीं है। ऐसे में आप कुछ अवसरों पर गेंद का सही अनुमान नहीं लगा पाते। आप सुनिश्चित नहीं होते कि आपको कैच करने के लिए कहां पर खड़ा होना है।’’

मैन आफ द मैच शॉ ने अपनी पारी के बारे में कहा, ‘‘शुरू में आपको देखना होता है कि विकेट कैसा है। शुरू में मैदानी शॉट खेलना महत्वपूर्ण होता है। पिछले साल भी मैं गेंद को अच्छा हिट कर रहा था लेकिन कुछ गलतियां की। हमने धीमी शुरुआत की लेकिन हम जानते थे कि विकेट होने पर हम इसकी भरपायी कर सकते हैं। विकेट हमारे पिछले मैच की तुलना में बेहतर था।