ओपनर देवदत्त पडीक्कल (Devdutt Padikkal) ने अपने पहले आईपीएल मैच में धमाकेदार अर्धशतक जड़ खूब वाहवाही बटोरी है. पडीक्कल रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore) की ओर से खेलते हुए सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) के खिलाफ टीम को धमाकेदार शुरुआत दिलाई. 20 वर्षीय पडीक्कल का कहना है कि जब उन्हें पता लगा कि हैदराबाद के खिलाफ वह डेब्यू करने वाले हैं तो इसको लेकर वह काफी नर्वस थे.Also Read - IND vs SA: साउथ अफ्रीका के खिलाफ इन 7 बड़ी वजहों से हारा भारत, दूसरे मैच में नहीं दोहराएगा ये गलतियां

‘कुछ गेंद खेलने के बाद स्वाभाविक हो गया था’ Also Read - IND vs SA: Virat Kohli ने तोड़ा Sachin Tendulkar का रिकॉर्ड, विदेशों में सर्वाधिक रन बनाने वाले भारतीय

पडीक्कल ने 42 गेंद में 56 रन बनाए जिसकी मदद से रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) ने सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) के खिलाफ 5 विकेट पर 163 रन का स्कोर खड़ा किया.  पडीक्कल ने मैच के बाद युजवेंद्र चहल (Yazuvendra Chahal) से बातचीत में कहा ,‘जब मेरे पदार्पण की खबर मिली तो मैं काफी नर्वस हो गया.  लेकिन बल्लेबाजी के लिए उतरने पर कुछ गेंद खेलने के बाद स्वाभाविक हो गया था.’ Also Read - 'लंबे समय तक कप्तान रहने के बाद सिर्फ एक खिलाड़ी के रूप में खेलना विराट कोहली के लिए आसान नहीं होगा'

उन्होंने कहा कि आरसीबी और भारत के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) से उन्होंने बहुत कुछ सीखा. उन्होंने कहा ,‘पिछले एक महीने से हम अभ्यास कर रहे हैं और मैने विराट भैया से बहुत कुछ सीखा. मैं उनसे सवाल पूछता रहता हूं. आज भी जब मैं फिंच के साथ खेल रहा था तो उन्होंने मुझ पर काफी भरोसा जताया.’

मैं विकेट लेना चाहता था: चहल

चहल ने अपने आखिरी और पारी के 16वें ओवर के बारे में कहा कि वह आक्रामक गेंद डालना चाहते थे जबकि रक्षात्मक फील्ड लगाई गई थी.  उन्होंने कहा ,‘ वह अहम ओवर था . मुझे लगा कि इस पर रन पड़ेंगे लेकिन यह भी लगा कि यह ओवर टीम के पक्ष में जा सकता है. मैं विकेट लेना चाहता था जबकि फील्ड रक्षात्मक थी.  विराट भैया से आक्रामक गेंदबाजी के बारे में ही बात की. ’

उन्होंने कहा ,‘पहली गेंद लेग स्टम्प पर थी जिसे मारना मुश्किल था.  विजय शंकर (Vijay Shankar) के आने पर एबी (AB de Villiers) और विराट ने कहा कि गुगली डालो.  हमें पता था कि सही जगह पर गिरने पर नया बल्लेबाज इसे भांप नहीं सकेगा. ’ चहल ने कहा कि कोरोना वायरस ब्रेक के कारण लंबे समय बाद खेलने की वजह से वह भी काफी नर्वस थे लेकिन नेट पर किया गया कड़ा अभ्यास काफी काम आया.