कोलकाता नाइटराइडर्स (Kolkata Knight Riders) ने रविवार रात आईपीएल (IPL 2020) के 54वें मैच में राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) को 60 रन से हराकर अपने प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीदों को जिंदा रखा। कोलकाता की ओर से रखे गए 192 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी राजस्थान टीम 9 विकेट पर 131 रन ही बना सकी। Also Read - IPL 2021: BCCI का ऐलान 18 फरवरी को हो सकती है खिलाड़ियों की नीलामी

जीत के बाद कोलकाता के कप्तान इयोन मोर्गन ने कहा कि उनकी टीम इस मुकाबले में आक्रामकता के साथ खेलने उतरी थी क्योंकि उनके पास कोई और रास्ता नहीं था। कोलकाता की ओर से पेसर पैट कमिंस ने 4 जबकि शिवम मावी और वरुण चक्रवर्ती ने 2-2 विकेट लिए। Also Read - IPL Retention 2021: पिछले सीजन नंबर 5 पर थी KKR, फिर भी नहीं किए कोई खास बदलाव

रॉयल्स की ओर से जोस बटलर (35) और राहुल तेवतिया (31) ही टिककर बल्लेबाजी कर पाए। नाइट राइडर्स ने मोर्गन की 35 गेंद में छह छक्कों और पांच चौकों की मदद से नाबाद 68 रन की पारी से सात विकेट पर 191 रन बनाए। राहुल त्रिपाठी (39) और शुबमन गिल (36) ने भी पहले ओवर में झटका लगने के बाद दूसरे विकेट 72 रन जोड़कर टीम को शानदार मंच मुहैया कराया। Also Read - IPL 2021- नीलामी से पहले Steve Smith का साथ छोड़ेगा राजस्थान रॉयल्स: रिपोर्ट

मोर्गन ने मैच के बाद कहा, ‘मैंने सोचा था कि 191 रन का स्कोर प्रतिस्पर्धी रहेगा। मुझे लगता है कि आउट होकर लौटे प्रत्येक बल्लेबाज ने कहा था कि विकेट बल्लेबाजी के लिए शानदार है। वैसे भी हम पूरी आक्रामकता के साथ खेलने के इरादे से उतरे थे क्योंकि इसके अलावा हमारे पास कोई रास्ता नहीं था। जब हम बल्लेबाजी कर रहे थे तो अधिक जोखिम उठाने के लिए तैयार थे।’

मोर्गन ने कहा कि ओस उम्मीद से काफी पहले गिरने लगी जिससे रॉयल्स की टीम फायदे की स्थिति में नहीं रही। उन्होंने कहा, ‘ओस उम्मीद से काफी पहले गिरने लगी इसलिए वे फायदे की स्थिति में नहीं थे।’