इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के 13वें सीजन की मिड सीजन विंडो 13 अक्टूबर से खुलने वाली है, चूंकि तब तक सभी आठ टीमों ने अपने 7 मैच खेल लिए होंगे।Also Read - खराब फॉर्म से गुजर रहे अजिंक्य रहाणे के समर्थन में उतरे कप्तान विराट कोहली, कहा- हम उसकी फॉर्म को नहीं आंक सकते

किन खिलाड़ियों को किया जा सकता है ट्रांसफर Also Read - चयन समिति की बैठक में Virat को वनडे कप्‍तानी से हटाने पर हुई चर्चा, Rohit बन सकते हैं टेस्‍ट में उपकप्‍तान !

मिड सीजन विंडो कई टीमों के लिए बड़ी राहत बन सकती है। नियमों के मुताबिक इस विंडो के दौरान टीमें अपने उन खिलाड़ियों को एक-दूसरे के साथ बदल सकती हैं, जिन्होंने टूर्नामेंट के पहले हिस्से में दो से कम मैच खेले हों। Also Read - Ruturaj Gaikwad बने कप्‍तान, BCCI के इस बड़े टूर्नामेंट में संभालेंगे टीम की कमान

अजिंक्य रहाणे: 13वें सीजन के लिए राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) से दिल्ली कैपिटल्स (DC) में आए भारतीय टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने टूर्नामेंट का पहला हिस्सा बेंच पर बैठकर ही बिताया है। दिल्ली टीम के मजबूत शीर्ष क्रम में रहाणे के लिए जगह नहीं बन पा रही है, ऐसे में टीम मिड सीजन विंडो के दौरान उन्हें ट्रेड कर सकती है।

किस टीम में जा सकते हैं रहाणे: रहाणे जैसे अनुभवी घरेलू क्रिकेटर को अपने स्क्वाड में शामिल करने में कई टीमें दिलचस्प होंगी लेकिन चेन्नई सुपर किंग्स इस सूची में सबसे आगे होगी। सुरेश रैना की गैरमौजूदगी में सीएसके को एक मजबूत भारतीय मध्यक्रम बल्लेबाज की जरूरत है, जिसे रहाणे पूरा कर सकते हैं।

मिशेल सैंटनर: कीवी स्पिनर मिशेल सैंटनर ने 13वें सीजन में अब तक चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के लिए एक भी मैच नहीं खेला है। सीएसके मैनेजमेंट इस बाएं हाथ के स्पिनर और निचले क्रम के बल्लेबाज को ट्रेड कर सकता है।

किस टीम में जा सकते हैं सैंटनर: लगातार चार मैच हार चुकी किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) टीम को सैंटनर जैसे ऑलराउंडर की जरूरत है। हाल ही में हैदराबाद के खिलाफ मैच हारने के बाद पंजाब के कप्तान केएल राहुल (KL Rahul) ने बताया कि मात्र 6 बल्लेबाजों के साथ खेलने की वजह से टीम को कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में ऑलराउंडर सैंटनर टीम की इन मुश्किलों का हल बन सकते हैं।

डेल स्टेन: रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के शुरुआती मैचों में महंगे साबित हुए दिग्गज दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज डेल स्टेन (Dale Steyn) भी मिड सीजन विंडो के दौरान टीम बदल सकते हैं।

किस टीम में शामिल हो सकते हैं स्टेन: स्टेन के लिए आरसीबी से बेहतर टीम राजस्थान रॉयल्स होगी। स्टीव स्मिथ के स्क्वाड में पहले ही जोफ्रा आर्चर जैसा तेज गेंदबाज हैं लेकिन अनुभवी स्टेन के आने से टीम का पेस अटैक और मजबूत होगा।

विराट सिंह: सनराइजर्स हैदराबाद स्क्वाड में शामिल झारखंड के प्रतिभावान युवा बल्लेबाज विराट सिंह मिड सीजन विंडो ट्रांसफर के दौरान टीमें बदल सकते हैं। सिंह ने झारखंड के लिए विजय हजारे ट्रॉफी में 7 मैचों में 335 रन बनाए थे। और सैयद मुश्ताक ट्रॉफी में 57.16 की शानदार औसत से 342 रन बनाए।

किस टीम में शामिल हो सकते हैं विराट: झारखंड का ये बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी की सीएसके टीम में अच्छी तरह फिट होगा।

वैसे तो मिड सीजन ट्रांसफर के दौरान टीमें आमतौर पर एक-दूसरे के स्क्वाड से खिलाड़ी ट्रेड करती हैं लेकिन जरूरत पड़ने पर ऑक्शन पूल से भी खिलाड़ियों को चुना जा सकता है। 13वें सीजन के पूल में ऐसे कुछ खिलाड़ी हैं जो मिड-सीजन विंडो के दौरान टूर्नामेंट में इंट्री ले सकते हैं।

यूसुफ पठान: आईपीएल के स्टार ऑलराउंडर यूसुफ पठान मिड सीजन विंडो ट्रांसफर के दौरान आईपीएल 2020 में वापस शामिल हो सकते हैं। तीन टीमों के लिए खेलते हुए खिताब जीत चुके पठान पर कई टीमों की नजर होगी।

किस टीम में शामिल हो सकते हैं पठान: चेन्नई सुपर किंग्स उन टीमों की सूची में शीर्ष पर है जो पठान को अपने स्क्वाड में शामिल करना चाहेंगी। सीएसके टीम को रैना की गैरमौजूदगी में मध्यक्रम में एक अनुभवी भारतीय बल्लेबाज की जरूरत है, जिस भूमिका में पठान खरे उतर सकते हैं। चेन्नई के अलावा राजस्थान रॉयल्स को भी ऐसे बल्लेबाज की जरूरत है जो मध्यक्रम में रॉबिन उथप्पा की जगह ले सके।