किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) के कप्तान केएल राहुल (KL Rahul) का कहना है कि सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) के खिलाफ मैच में 202 रनों का पीछा करते हुए मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) का जल्दी रन आउट होना उनकी टीम के लिए काफी महंगा साबित हुआ। Also Read - IPL 2020 KXIP vs RR: मैन ऑफ द मैच बेन स्टोक्स ने बताया- क्या था जीत का प्लान

पंजाब टीम लक्ष्य का पीछा करते हुए 16.5 ओवर में मात्र 132 रन बनाकर ऑलआउट हो गई। हैदराबाद के खिलाफ मिली 69 रन की हार आईपीएल 2020 में पंजाब की पांचवीं हार है। Also Read - KXIP vs RR HIGHLIGHTS: आईपीएल के 50वें मैच में राजस्थान रॉयल्स की जीत के 5 बड़े कारण, आप भी जानिए

किंग्स की पारी की शुरुआत बेहद खराब रही थी, टीम ने 5 ओवर के अंदर दो विकेट खो दिए थे। पहले कप्तान राहुल के साथ हड़बड़ी की वजह से फॉर्म में चल रहे अग्रवाल (9) रन आउट हुए। जिसके बाद प्रभसिमरन सिंह भी मात्र 11 रन बनाकर आउट हो गए। Also Read - KXIP vs RR: कैप्टन केएल राहुल ने बताया राजस्थान से हार के लिए कौन है जिम्मेदार?

मैच के बाद प्रेसेंटेशन के दौरान राहुल ने कहा, “जब आप पावरप्ले में विकेट खोते हैं तो चीजें मुश्किल हो ही जाएंगी। खासकर जब आप 6 बल्लेबाजों के साथ खेल रहे हों। मयंक का जल्दी रन आउट होना सही नहीं था, ये बेहद खराब था। ये उन दिनों में से एक था, जब आप कहीं भी हिट करो गेंद फील्डर के पास ही जाती है।”

भले ही बल्लेबाजों ने उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन ना किया हो लेकिन पंजाब के गेंदबाजों ने डेथ ओवर में कमाल की गेंदबाजी की। टीम ने आखिरी पांच ओवर में मात्र 41 रन दिए और 6 विकेट भी लिए। युवा लेग स्पिनर रवि बिश्नोई ने 29 रन देकर तीन विकेट हासिल किए।

गेंदबाजों के लिए कप्तान ने कहा, “पिछले पांच मैचों में हमने डेथ ओवर में गेंदबाजी करते हुए संघर्ष किया है लेकिन आज का दिन सकारात्मक था। लड़कों ने साहस दिखाया और वापसी की। उस तरह की शुरुआत मिलने के बाद उम्मीद थी की हैदराबाद 230 से ज्यादा रन बनाएगी। बिश्नोई ने काफी साहस दिखाया। वो कभी भी डरा नहीं, चाहे पावरप्ले हो या फिर डेथ ओवर। वो ऐसे मौकों का आनंद लेता है।”

राहुल ने निकोलस पूरन की भी तारीफ की, जिन्होंने 37 गेंदो पर 77 रनों की बेहतरीन पारी खेली। उन्होंने कहा, “पूरन को देखना बहुत अच्छा लगा और वो अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था। पिछले साल भी उसे जब भी मौका मिला है उसने यही किया। एक और चीज जो हमारे लिए सकारात्मक थी, हमें पता था कि निकी अच्छा करेगा।”

हार के बाद राहुल निराश जरूर है लेकिन उन्होंन उम्मीद जताई है कि टीम वापसी कर सकेगी। उन्होंने कहा, “हमारे सभी खिलाड़ी पेशेवर हैं और वो अपनी परेशानियों को समझते हैं। बतौर कप्तान, आप केवल उनका समर्थन कर सकते हैं। इस स्क्वाड में सभी प्रतिभाशाली हैं। कभी कभी नतीजा नहीं मिलता है और आपको धैर्य रखना होता है।”