किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) से दिल्ली कैपिटल्स (DC) में शामिल हुए सीनियर भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) 19 सितंबर से शुरू होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के 13वें सीजन को एक प्रयोग की तरह देख रहे हैं। कोविड-19 महामारी के बीच यूएई में खेला जाना वाले इस टूर्नामेंट्स में कई नए नियम होंगे। Also Read - IPL 2020 KXIP vs RCB: इन 5 कारणों से किंग्स इलेवन पंजाब को 'किंग' कोहली के खिलाफ मिली बड़ी जीत

वहीं अश्विन का मानना है कि कोविड-19 महामारी के कारण टूर्नामेंट की तैयारी का ज्यादा समय मिलने से खिलाड़ियों को लीग में नई चीजों का आजमाने का मौका मिलेगा। अश्विन ने फ्रेंचाइजी की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा, ‘‘ये संभवत: सबसे लंबा समय है तो टूर्नामेंट की तैयारी के लिए आईपीएल टीमों को मिला है।’’ Also Read - Highlights KXIP vs RCB : केएल राहुल की शतकीय पारी के बाद गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर पंजाब ने बैंगलोर को 97 रन से रौंदा

उन्होंने कहा, ‘‘ये अपने कौशल को निखारने और नई चीजों को आजमाने का शानदार मौका है। ये प्रयोगशाला की तरह है जहां आपको अपने पसंदीदा खेल में चीजों को आजमाने का मौका मिला है।’’ Also Read - IPL 2020: पंजाब ने विराट कोहली और देवदत्त पडीक्कल के खिलाफ बनाई योजना, कोच ने किया खुलासा

अश्विन आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब की कप्तानी की है। वो 139 आईपीएल मैचों में 125 विकेट चटका चुके हैं। इस अनुभवी ऑफ स्पिनर ने कहा कि कोच रिकी पोंटिंग ने खिलाड़ियों को अपने काम के बोझ का सही मैनेजमेंट करने को कहा है।

उन्होंने कहा, ‘‘इस समय हमारे अंदर काफी ऊर्जा है और खेलने को लेकर हम काफी उत्सुक हैं। पोंटिंग ने एक चीज बेहद स्पष्ट कर दी है कि हमें अपने वर्कलोड को सही से मैनेज करना होगा और ये महत्वपूर्ण होगा।”