भारतीय टीम के स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की आगामी आईपीएल में टीम को लेकर अंतिम निर्णय हो गया है. अश्विन अगले आईपीएल सीजन में दिल्‍ली कैपिटल्‍स की तरफ से खेलते हुए नजर आएंगे. किंग्‍स इलेवन पंजाब ने अश्विन को दिल्‍ली फ्रेंचाइजी काे दोनों टीमों के बीच ट्रेड के माध्‍यम से एक करोड़ रुपये में दे दिया है.

दोनों फ्रेंचाइजी के बीच हुए करार के मुताबिक रविचंद्रन अश्विन के बदले दिल्‍ली फ्रेंचाइजी पंजाब को एक करोड़ रुपये और अपना ऑलराउंडर खिलाड़ी जगदीश सुचित देगी.

पंजाब की टीम ने अश्विन के बदले दिल्‍ली से तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्‍ट की मांग की थी,‍ जिसे ठुकरा दिया गया. रविचंद्रन अश्विन पिछले दो साल से किंग्‍स इलेवन पंजाब के साथ जुड़े हुए थे. दो वर्ष तक उन्‍होंने पंजाब की टीम की कप्‍तानी की. हालांकि वो टीम को प्‍लेऑफ तक लेकर जाने में भी विफल रहे.

लंबे समय से इस तरह की खबरें आ रही थी कि पंजाब फ्रेंचाइजी अश्विन को हटाना चाहती है. टीम के सह-मालिक नेस वाडिया ने न्‍यूज एजेंसी पीटीआई से बातचीत के दौरान कहा, “इस डील से हर कोई खुश है. हम खुश हैं, अश्विन और दिल्‍ली कैपिटल्‍स भी खुश है. अश्विन के संबंध में हम तीन टीमों से संपर्क में थे, लेकिन दिल्‍ली के साथ फाइनल डील कर पाए. हम अश्विन को आने वाले भविष्‍य के लिए अपनी शुभकामनाएं देना चाहते हैं.”