दिल्‍ली कैपिटल्‍स के खिलाफ मैच के दौरान रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के कप्तान विराट कोहली ने बायो-बबल के अंदर खिलाड़ी के लिए बनाए गए नियम का उल्‍लंघन किया. विराट मैदान पर गेंद पर लार लगाते हुए नजर आए. Also Read - नेट्स पर जमकर पसीना बहा रहे हैं रोहित शर्मा, फिर ऑस्ट्रेलिया दौरे से क्यों हैं बाहर?

विराट ने ने शार्ट कवर पर फील्डिंग के दौरान गेंद को रोका और उसके बाद उस पर लार लगा दी. ये वाक्या दिल्‍ली कैपिटल्‍स की बल्‍लेबाजी के दौरान तीसरे ओवर में हुआ. कोहली को हालांकि तुरंत ही अपनी गलती का अहसास हो गया था और उन्होंने हाथ उठाकर इसे स्वीकार किया. Also Read - 'रोहित शर्मा की चोट जरूरत से ज्यादा गंभीर; 2-3 हफ्तों तक आराम करना होगा'

पृथ्‍वी शॉ के करारे शॉट और कोहली की शानदार फिल्डिंग क्षेत्ररक्षण को देखकर दिग्गज सचिन तेंदुलकर ने तुरंत ही ट्वीट करके उनकी प्रशंसा की. तेंदुलकर ने ट्वीट किया, ‘‘शॉ ने क्या अविश्वसनीय शॉट खेला. गेंद पर लार लगाने के बाद कोहली की प्रतिक्रिया देखने लायक थी. कभी कभी सहज प्रवृति सामने आ जाती है.’’ Also Read - दिल्ली पर जीत के बाद डेविड वॉर्नर ने यूं मनाया बर्थडे का जश्न, खिलाड़ियों पर पोता केक, देखें VIDEO

पिछले सप्ताह राजस्थान रॉयल्स के बल्लेबाज रोबिन उथप्पा ने कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ क्षेत्ररक्षण करते समय गेंद पर लार लगा दी थी. आईसीसी ने कोविड-19 महामारी के कारण इस साल जून में गेंद को चमकाने के लिये लार के उपयोग पर प्रतिबंध लगा दिया था.

नियम के मुताबिक ‘‘अगर खिलाड़ी गेंद पर लार लगाता है तो अंपायर इस स्थिति से निबटेंगे और खिलाड़ियों की इस नयी प्रक्रिया से तालमेल बिठाने के शुरुआती चरण के दौरान उदारता बरतेंगे लेकिन आगे इस तरह की घटना पर टीम को चेतावनी दी जाएगी. ’’

‘‘एक टीम को प्रत्येक पारी में दो चेतावनी जारी की जा सकती है लेकिन गेंद पर लार के लगातार उपयोग पर पांच रन की पेनल्टी लगायी जाएगी. जब भी गेंद पर लार का उपयोग किया जाएगा तब अंपायरों को गेंद साफ करनी होगी.’’