आईपीएल के 13वें सीजन में प्लेऑफ का रोमांच अपने चरम पर बढ़ता ही जा रहा है. लीग स्टेज के 52 मैच पूरे होने के बावजूद अभी तक प्लेऑफ की सूरत तय नहीं हो पाई है. लीग स्टेज में अब केवल 4 मैच ही बाकी बचे हैं लेकिन अभी भी प्ले ऑफ में तीन स्थानों का तय होना बाकी है. अभी तक सिर्फ मुंबई इंडियंस की टीम टूर्नामेंट के दूसरे दौर में अपनी जगह पक्की कर पाई है. शनिवार को खेले गए दिन के दूसरे मैच में सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) को हराकर प्लेऑफ की दौड़ को और भी अधिक रोमांचक बना दिया है.Also Read - IND vs SA 3rd ODI: राष्‍ट्रगान के दौरान विराट कोहली चिंगम खाते आए नजर, भड़के फैन्‍स

अगर आज रॉयल चैलेंजर्स की टीम यहां जीत दर्ज कर लेती तो प्लेऑफ में उसकी जगह भी पक्की हो जाती लेकिन सनराइजर्स की टीम ने ऐसा होने नहीं दिया. हैदराबाद ने यहां लगभग एक तरफा मुकाबले में जीत दर्ज कर प्लेऑफ में पहुंचने की अपनी संभावनाएं बरकरार रखी हैं. Also Read - पापा विराट कोहली की जेरॉक्‍स कॉपी है बेटी Vamika, तस्‍वीर सामने आते ही फैन्‍स ने किए क्‍यूट कमेंट

अभी तक प्लेऑफ की दौड़ से सिर्फ चेन्नै सुपर किंग्स की टीम ही बाहर हुई है, जबकि मुंबई क्वॉलिफाई कर चुकी है. बाकी की 6 टीमों के भाग्य का फैसला उनके बचे हुए एक-एक मैच और फिर रन रेट के आधार पर होगा. देखें इस मैच के वे 5 बड़े कारण जिनके चलते हैदराबाद ने बैंगलोर को दी मात. Also Read - विराट कोहली को कप्तानी से हटाने की वजह से भारतीय क्रिकेट 'Dead End' पर आ गया है: राशिद लतीफ

संदीप शर्मा ने दी ड्रीम शुरुआत
हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर (David Warner) ने यहां टॉस जीतकर पहले फील्डिंग का निर्णय लिया था. अब उन्हें उम्मीद थी कि उनके गेंदबाज जल्दी-जल्दी कुछ विकेट लेकर आरसीबी पर दबाव बना दें. संदीप शर्मा इस रणनीति में बिल्कुल खरे उतरे और उन्होंने बैंगलोर के फॉर्म में चल रहे दो बड़े खिलाड़ी देवदत्त पडीक्कल (5) और कप्तान विराट कोहली (7) को सस्ते में समेट दिया. उनके ये दो विकेट मैच में निर्णायक साबित हुए. इस तेज गेंदबाज ने 4 ओवर में 20 रन देकर 2 विकेट अपने नाम किए. उन्हें इस शानदार खेल के लिए मैन ऑफ द मैच का खिताब मिला.

डिविलियर्स भी हुए फ्लॉप, नदीम ने दिया रॉयल उम्मीदों को झटका
आरसीबी की टीम में इस सीजन गिने-चुने बल्लेबाज ही उसे संभालते आ रहे हैं. अगर टॉप ऑर्डर से विराट, पडीक्कल और डिविलियर्स रन बनाते हैं तो टीम रनों की चुनौती पेश करती है. आज जब विराट और पडीक्कल फ्लॉप हुए तो सारा दारोमदार एबी डिविलियर्स पर आ गया. लेकिन इस बार डिविलियर्स अपनी टीम को संकट से नहीं निकाल पाए. 24 रन के निजी स्कोर पर उन्हें शाहबाज नदीम ने अभिषेक शर्मा के हाथों कैच लपकवाकर आउट कर दिया. रॉयल टीम यहां से बैकफुट पर आ गई.

हैदराबादी बॉलरों ने नहीं दिया RCB को दबाव से उबरने का मौका
डिविलियर्स के आउट होने के बाद हैदराबाद के गेंदबाज नियमित रूप से विकेट लेते रहे. संदीप और नदीम द्वारा दिए गए 3 झटकों के अलावा बैंगलोर को जेसन होल्डर ने दो और टी. नटराजन और राशिद खान ने भी 1-1 झटका देकर उसकी मुसीबतें कम नहीं होने दी. इस तरह रॉयल चैलेंजर्स 20 ओवर में सिर्फ 120 रन ही बना पाई.

रिद्धिमान साहा छाए
हैदराबाद की पिछली जीत के हीरो रहे रिद्धिमान साहा ने इस मैच में भी शानदार खेल दिखाया. कप्तान वॉर्नर यहां सस्ते में आउट होकर लौट गए थे. ऐसे में साहा ने एक छोर को पारी के 11वें ओवर तक संभाले रखा और 39 रन की अहम पारी खेली. इस दौरान उन्होंने मनीष पांडे के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 50 रन की साझेदारी भी निभाई. साहा चहल ने अपना शिकार जरूर बनाया लेकिन तब तक आसान से लक्ष्य का पीछा कर रहा हैदराबाद जीत के बहुत करीब पहुंच चुका था.

मनीष पांडे और होल्डर ने भी दिखाया दम
121 रन की चुनौती मैच के दूसरे हाफ में ज्यादा बड़ी नहीं थी. लेकिन हैदराबाद के बल्लेबाजों को चाहिए था कि वह पिच पर टिक कर रन बनाएं. हालांकि उसने अपने 5 विकेट जरूर गंवाए. लेकिन साहा के अलावा इस मैच में मनीष पांडे (26) ने भी छोटी मगर अहम पारी खेली. उनके अलावा जेसन होल्डर ने मात्र 10 बॉल में 26 (1×4, 3×6) रन बनाकर अपनी टीम को जीत दिला. होल्डर अंत तक नाबाद रहे.