IPL 2020, Royal Challengers Bangalore vs Sunrisers Hyderabad, 52th Match, Preview: लगातार मैच हारने के बाद मुश्किल में आई रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (RCB) शनिवार को इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) में सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) के खिलाफ होने वाले मैच में जीत दर्ज करके प्लेऑफ में जगह सुरक्षित करने की कोशिश करेगा। Also Read - IPL में बैटिंग सलाहकार की भूमिका निभाना चाहते हैं विनोद कांबली, कहा-युवाओं का कर सकता हूं मार्गदर्शन

लेकिन विराट कोहली की टीम के लिए ये काम आसान नहीं होगा क्योंकि सनराइजर्स अभी भी प्लेऑफ की दौड़ में बनी हुई है और दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ पिछले मैच में शानदार जीत हासिल कर हैदराबाद के खिलाड़ी उत्साह से ओतप्रोत है। Also Read - IPL 2021 : मेगा ऑक्शन में इन 3 खिलाड़ियों को रिटेन कर सकती है Chennai Super Kings, ये है वजह

अभी केवल चेन्नई सुपर किंग्स ही एकमात्र ऐसी टीम है जो प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हुई है। लेकिन सीएसके ने गुरुवार को कोलकाता नाइट राइडर्स पर आखिरी गेंद पर जीत दर्ज करके उसके समीकरण भी बिगाड़ दिए। अब तक केवल मुंबई इंडियंस ही प्लेऑफ में जगह पक्की कर पाया है। चेन्नई को छोड़कर बाकी छह टीमें दौड़ में बनी हुई हैं। इनमें आरसीबी और सनराइजर्स भी शामिल हैं। Also Read - ...जब रोहित शर्मा ने सूर्यकुमार यादव से कहा-आज नहीं तो कल जरूर मिलेगा आपको मौका, अपना काम करते रहो

टीम की ताकत:

चेन्नई और मुंबई से पिछले दो मैच गंवाने के बावजूद अंकतालिका में आरसीबी अभी सनराइजर्स से बेहतर स्थिति में है। आरसीबी को प्लेऑफ में जगह सुनिश्चित करने के लिए सनराइजर्स और दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ होने वाले आखिरी दो मैचों में से एक मैच जीतना होगा।

अपने दोनों मैच गंवाने के बाद भी आरसीबी के 14 अंक रहेंगे और वो तब भी बेहतर नेट रन रेट के आधार पर क्वालिफाई कर सकता है लेकिन इसके लिए उसे अन्य मैचों में भी अनुकूल परिणाम की दरकार रहेगी। वैसे अंतिम दो मैचों में हार पर आरसीबी का नेट रन रेट प्रभावित होगा और ऐसे में वो बाहर हो सकता है।

सनराइजर्स के अभी 12 मैचों में 10 अंक हैं। उसे नॉकआउट में जगह बनाने की अपनी उम्मीदों को जीवंत रखने के लिए बाकी बचे दोनों मैच जीतने होंगे। सनराइजर्स को आरसीबी के बाद मुंबई का सामना करना है।

सनराइजर्स के लिए दोनों मैचों में जीत भी पर्याप्त नहीं है। उसे ये उम्मीद करनी होगी कि आरसीबी, दिल्ली (दोनों 14) और किंग्स इलेवन पंजाब (12 अंक) में से कोई 16 अंक तक नहीं पहुंच पाए। ऐसी स्थिति में सनराइजर्स बेहतर रन रेट पर प्लेऑफ में पहुंच सकता है।

अगर प्रदर्शन की बात करें तो आरसीबी को लगातार दो हार के बाद अब संभलकर खेलने की जरूरत है। इन हार से निश्चित तौर पर उसका मनोबल गिरा होगा। चेन्नई ने कोहली की टीम को आठ विकेट से तो मुंबई ने पांच विकेट से हराया था।

आरसीबी की बल्लेबाजी उसका मजबूत पक्ष है। उसके बल्लेबाजी विभाग में कोहली, युवा सलामी बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल, एबी डिविलियर्स और आरोन फिंच जैसे बल्लेबाज है। पिछले मैच में फिंच की जगह जोश फिलिप को लिया गया था जिन्होंने 33 रन बनाए। टीम के निचले क्रम के बल्लेबाज शिवम दुबे, गुरकीरत मान, क्रिस मौरिस को अधिक जिम्मेदारी लेने की जरूरत है।

नवदीप सैनी के चोटिल होने से टीम की गेंदबाजी प्रभावित हुई है। डेल स्टेन फिर से प्रभाव नहीं छोड़ पाये और उनकी जगह इसुरु उदाना को अंतिम एकादश में रखा जा सकता है।

दूसरी तरफ से सनराइजर्स ने दिल्ली पर 88 रन से बड़ी जीत दर्ज की और वह यह फार्म बरकरार रखने की कोशिश करेगा। कप्तान डेविड वार्नर (66) और ऋद्धिमान साहा (87) ने पहले विकेट के लिये 107 रन की साझेदारी की जबकि मनीष पांडे ने 44 रन बनाए।

गेंदबाजी में राशिद खान अपना कमाल दिखा रहे हैं। उन्होंने सनराइजर्स के खिलाफ सात रन देकर तीन विकेट लिये। राशिद के अलावा संदीप शर्मा और टी नटराजन ने भी प्रभाव छोड़ा।

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर:

विराट कोहली (कप्तान), आरोन फिंच, देवदत्त पडिक्कल, पार्थिव पटेल, एबी डिविलियर्स, गुरकीरत सिंह, शिवम दुबे, क्रिस मॉरिस, वाशिंगटन सुंदर, शाहबाज अहमद, नवदीप सैनी, डेल स्टेन, युजवेंद्र चहल, एडम जम्पा, इसुरु उदाना, मोइन अली, जोश फिलिप, पवन नेगी, पवन देशपांडे, मोहम्मद सिराज, उमेश यादव।

सनराइजर्स हैदराबाद:

डेविड वार्नर (कप्तान), जॉनी बेयरस्टॉ, केन विलियमसन, मनीष पांडे, श्रीवत्स गोस्वामी, विराट सिंह, प्रियम गर्ग, ऋद्धिमान साहा, अब्दुल समद, विजय शंकर, मोहम्मद नबी, राशिद खान, जैसन होल्डर, अभिषेक शर्मा, बी संदीप शर्मा , संजय यादव, फैबियन एलेन, पृथ्वी राज यरा, खलील अहमद, संदीप शर्मा, शाहबाज़ नदीम, सिद्धार्थ कौल, बिली स्टानलेक, टी नटराजन, बासिल थम्पी।