इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के छठे मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore) के खिलाफ किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) की जीत में 20 साल के युवा लेग स्पिनर रवि बिश्नोई (Ravi Bishnoi) ने अहम भूमिका निभाई.  बिश्नोई ने इस मैच में कुल 3 विकेट चटकाए.  अंडर-19 वर्ल्ड कप में धमाकेदार प्रदर्शन कर सुर्खियां बटोरने वाले बिश्नोई इस समय कोच अनिल कुंबले (Anil Kumble) के मार्गदर्शन में आईपीएल में खेल रहे हैं.Also Read - IPL vs PSL: शोएब अख्‍तर से पूछा गया कौन सी क्रिकेट लीग है बेहतर, दिया मजेदार जवाब

रवि ने कहा कि मुख्य कोच अनिल कुंबले ने उन्हें सलाह दी है कि हमेशा शांत रहो और बतौर गेंदबाज अपनी काबिलियत पर भरोसा रखो.  पंजाब ने गुरुवार रात विराट कोहली की अगुअवाई वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को  97 रन रन से रौंदकर मौजूदा लीग में अपनी पहली जीत दर्ज की. Also Read - विराट कोहली ICC ट्रॉफी तो छोड़िए वो आज तक IPL तक नहीं जीत पाए हैं: सुरेश रैना

मैच के बाद बिश्नोई ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘अनिल सर ने हमेशा मुझे अपनी गेंदबाजी काबिलियत और कौशल पर भरोसा रखने को कहा है.  उन्होंने मुझे कहा कि ज्यादा चीजों को मत आजमाओ और क्रीज पर शांत व संयमित बने रहो. ’ Also Read - IPL 2021: श्रेयस अय्यर की वापसी तय, रिषभ पंत से कप्‍तानी मिलने के सवाल पर दिया ये जवाब

भारत की अंडर-19 विश्व कप टीम के खिलाड़ी ने उस टीम के खिलाफ अपने चार ओवरों में 32 रन देकर तीन विकेट चटकाए जिसमें विराट कोहली और एबी डिविलियर्स जैसे धुरंधर थे.

शीर्ष खिलाड़ियों के खिलाफ गेंदबाजी करने के बारे में पूछने पर बिश्नोई ने कहा, ‘आईपीएल से पहले हमारा लंबा शिविर लगा था, मैं खुद को मानसिक रूप से तैयार कर रहा था क्योंकि यहां सभी के कौशल का स्तर समान है.  इसलिए मेरा ध्यान मानसिक रूप से मजबूत होने और भयभीत नहीं होने पर था. ’ उन्होंने कहा, ‘मैंने खुद से कहा कि लूज गेंद नहीं डालो क्योंकि इससे वे मेरे खिलाफ आक्रामक हो जाएंगे.

केएल राहुल की कप्तानी वाली किंग्स इलेवन पंजाब को पहले मुकाबले में दिल्ली के खिलाफ सुपर ओवर में हार मिली थी.