कोलकाता नाइटराइडर्स (Kolkata Knight Riders) को शुक्रवार को खेले गए आईपीएल 2020 (IPL 2020) के 32वें मैच में मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के खिलाफ 8 विकेट से हार का सामना करना पड़ा.  केकेआर टीम के नए कप्तान इयोन मोर्गन (Eoin Morgan) ने इस हार की वजह शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों की नाकामी को बताया.  मोर्गन ने कहा कि उन्हें जल्द से जल्द चीजों में सुधार करना होगा.Also Read - टी20 विश्व कप करियर की सबसे बड़ी जिम्मेदारी: हार्दिक पांड्या

केकेआर का स्कोर पहले बल्लेबाजी करते हुए 8वें ओवर में 4 विकेट पर 42 रन था.  उसकी आधी टीम 11वें ओवर में 61 रन के स्कोर तक पवेलियन लौट गई थी. Also Read - VIDEO: CSK को चौथा खिताब जिता घर लौटे रुतुराज गायकवाड़; मां ने कुछ इस अंदाज में किया स्वागत

कमिंस और मोर्गन ने 87 रन की साझेदारी की  Also Read - T20 World Cup 2021, SL vs NAM Live Streaming: मोबाइल पर इस तरह देखें विश्व कप मैच

इसके बाद मोर्गन (नाबाद 39) और तेज गेंदबाज पैट कमिंस (नाबाद 53) के बीच छठे विकेट के लिए 87 रन की अटूट साझेदारी से टीम पांच विकेट पर 148 रन के सम्मानजनक स्कोर तक पहुंची.  मुंबई ने हालांकि 16.5 ओवर में दो विकेट खोकर ही लक्ष्य हासिल कर दिया.

मोर्गन ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘पहले बल्लेबाजी करते हुए हमने कुछ गलतियां की. मुंबई इंडियंस ने बहुत अच्छी गेंदबाजी की और साबित किया कि वह टूर्नामेंट में अब तक की बेहतरीन टीमों में से एक क्यों है. ’

दिनेश कार्तिक की जगह शुक्रवार को ही कप्तानी संभालने वाले इंग्लैंड के विश्व कप विजेता कप्तान ने कहा, ‘हमें इस विभाग में सुधार करना होगा. अभी हम टूर्नामेंट के मध्य चरण में हैं. चीजों को बदलने का इससे बेहतर समय नहीं हो सकता है.’

‘केकेआर के बल्लेबाजी क्रम को लचीलापन दिखाना होगा’

मोर्गन ने कहा कि केकेआर के बल्लेबाजी क्रम को लचीलापन दिखाना होगा और प्रतिद्वंद्वी को देखते हुए अपने खेल को बदलना होगा. उन्होंने कहा, ‘हमारे बल्लेबाजी क्रम की मजबूती और गहराई तथा कौशल को देखते हुए हमें आगे बढ़ने के लिए जितना संभव हो सके परिस्थितियों से सामंजस्य बिठाना होगा. ’

मोर्गन ने कहा कि कार्तिक ने अपनी बल्लेबाजी पर ध्यान देने के लिए कप्तानी छोड़ी. बकौल मोर्गन, ‘इस टीम में कई नेतृत्वकर्ता हैं और मुझे जिम्मेदारी सौंपी गई है.  मैं और दिनेश कप्तान और उप कप्तान है.  दिनेश ने निस्वार्थ भाव दिखाया और अपनी बल्लेबाजी पर ध्यान देने के लिए कप्तानी छोड़कर उप कप्तान बनना स्वीकार किया. ’

मोर्गन ने कहा, ‘इसलिए मैं कप्तान बना और यह टीम की अगुआई करने का बहुत अच्छा मौका है.  हमारी टीम में कई नेतृत्वकर्ता हैं और हमें प्रतियोगिता के दौरान इसकी जरूरत पड़ेगी.’