आईपीएल (IPL 2020) फ्रेंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) के मुख्य कोच साइमन कैटिच (Simon Katich) का कहना है कि टीम के सभी खिलाड़ी अपने हालिया प्रदर्शन से खुश नहीं है और हर कोई अपने खेल में सुधार करना चाहता है। कैटिच का बयान किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) के खिलाफ गुरुवार को होने वाले मैच से ठीक पहले आया है। विराट कोहली (Virat Kohli) की टीम 13वें सीजन की अंकतालिका में तीसरे स्थान पर है। Also Read - IPL 2020 KXIP vs RR: मैन ऑफ द मैच बेन स्टोक्स ने बताया- क्या था जीत का प्लान

कोच ने कहा, “हर मैच अहम है, हमेशा की तरह इस बार भी कड़ी प्रतिद्वंद्विता होने वाली है। कोई भी टीम किसी भी दिन दूसरी टीम को हरा सकती है, हम इस स्टेज पर जो मेहनत की है और जो मूमेंटम बनाया है, हम उसका ज्यादा से ज्यादा फायदा उठाना चाहते हैं। मुझे नहीं लगता कि हमारा ग्रुप संतुष्ट है, हमने किसी भी चीज के लिए क्वालिफाई नहीं किया है, हमने कुछ जीता नहीं है, बात मूमेंटम बनाने और आत्मविश्वास बनाए रखने की है।” Also Read - KXIP vs RR HIGHLIGHTS: आईपीएल के 50वें मैच में राजस्थान रॉयल्स की जीत के 5 बड़े कारण, आप भी जानिए

गौरतलब है कि टूर्नामेंट की शुरुआत में पंजाब ने बैंगलोर को 97 रनों से बड़े अंतर से हराया। उस मैच को याद कर कैटिच ने कहा, “वो निराशाजनक नतीजा था, टूर्नामेंट की शुरुआत में चीजें विपरीत दिशा में जा सकती हैं। हम खुशकिस्मत थे जो मुंबई के खिलाफ अगले मैच में सही दिशा में लौट सके। पंजाब के खिलाफ हार ने हमारे उन पक्षों को उजागर किया जहां सुधार की जरूरत थी लेकिन उसे हार से भी कुछ अच्छी चीजें सामने आईं। अगर हम वैसे ही खेलते रहे जैसे खेल रहे हैं, हम एक और शानदार प्रदर्शन करने की तरफ बढ़ेंगे।” Also Read - KXIP vs RR: कैप्टन केएल राहुल ने बताया राजस्थान से हार के लिए कौन है जिम्मेदार?

आरसीबी के डॉयरेक्टर माइक हेसन ने भी माना कि टीम की मानसिकता सही है लेकिन उन्होंने ये भी कहा कि कोहली और उनके खिलाड़ियों को लंबा टूर्नामेंट खेलने की चुनौतियां पता हैं।

हेसन ने कहा, “हम अभी आगे नहीं निकल रहे हैं, हम हर मैच के साथ सुधार करने की कोशिश कर रहे हैं। जब हम जीते तो अच्छा है, जब हम हारे तो हम उसका आकलन करते हैं। हम जहां है उससे खुश हैं लेकिन हमें ये भी पता है कि हमारा ध्यान किंग्स इलेवन पंजाब पर है। हम दो मैचों में बुरी तरह से हारे लेकिन अचानक से चीजें बराबर नहीं होती, हमने उन पक्षों को ढूंढा जहां हमने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया था।”