इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) फ्रेंचाइजी राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के दक्षिण अफ्रीकी ऑलराउंडर क्रिस मॉरिस (Chris Morris) ने कहा कि आईपीएल के 14वें सीजन के बायो बबल में कोविड-19 के मामले सामने आने के बाद अफरातफरी का माहौल बन गया था। मॉरिस ने कहा स्वदेश लौटकर राहत महसूस कर रहे हैं। Also Read - BCCI को बड़ी राहत; IPL 2021 के सफल आयोजन के लिए CPL का शेड्यूल बदलने को तैयार हुआ क्रिकेट वेस्टइंडीज

आईपीएल को स्थगित किए जाने के बाद मॉरिस समेत 10 और दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी स्वदेश लौट गए हैं। आईपीएल में कोविड-19 के छह मामले पाए गए थे जिसमें चार खिलाड़ी और दो कोच शामिल थे। अपने घर में 10 दिन के अनिवार्य क्वारेंटीन में रह रहे मॉरिस ने आईओएल.सीओ.जेडए से कहा, ‘‘निश्चित तौर पर मैं राहत महसूस कर रहा हूं।’’ Also Read - चीफ सेलेक्टर का बड़ा बयान, IPL छोड़ देंगे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी!

मॉरिस ने कहा कि उन्हें कोलकाता नाइट राइडर्स के दो खिलाड़ियों वरुण चक्रवर्ती और संदीप वारियर के पॉजिटिव पाये जाने के बारे में रविवार की रात को पता चला। Also Read - विंडीज दौरे के लिए AUS टीम का ऐलान, IPL खेलने वाले इन क्रिकेटर्स ने वापस लिया नाम, भड़के चयनकर्ता

उन्होंने कहा, ‘‘जैसा ही हमें इस बारे में पता चला कि बायो बबल के अंदर खिलाड़ी पॉजिटिव पाए गए हैं तो सभी ने सवाल करने शुरू कर दिए। हम सभी के अंदर निश्चित तौर पर खतरे की घंटी बजनी शुरू हो गयी थी। सोमवार तक जब उन्होंने वो मैच (कोलकाता और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर) स्थगित किया तब तक हमें पता चल गया था कि टूर्नामेंट जारी रखने के लिए दबाव बना हुआ है।’’

सनराइजर्स हैदराबाद के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा और दिल्ली कैपिटल्स के अमित मिश्रा के मंगलवार को पॉजिटिव आने के बाद इस टी20 लीग को स्थगित कर दिया गया था। चेन्नई सुपरकिंग्स के गेंदबाजी कोच एल बालाजी और बल्लेबाजी कोच माइकल हसी भी वायरस से संक्रमित हुए।

मॉरिस ने कहा, ‘‘मैं अपनी टीम के डॉक्टर से बात कर रहा था। कुमार संगकारा ने तब इशारा किया और तब हमें पता चला कि अब टूर्नामेंट आगे नहीं बढ़ पाएगा। इसके बाद का माहौल अफरातफरी वाला था। इंग्लैंड के खिलाड़ी खास तौर पर घबराए हुए थे क्योंकि उन्हें इंग्लैंड में होटलों में अलग थलग रहने की जरूरत थी और जाहिर था कि उनके पास कमरे नहीं थे।’’