लगातार चार मैच जीतकर इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) के 14वें सीजन की अंकतालिका में शीर्ष पर बैठे विराट कोहली (Virat Kohli) की रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) की बादशाहत आखिरकार खत्म हो गई और इसे खत्म करने का श्रेय जाता है चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) को।Also Read - राजस्थान रॉयल्स के अच्छे ड्रेसिंग रूम माहौल से मुझे आगे बढ़ने में मदद मिल रही है : रविचंद्रन अश्विन

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए टूर्नामेंट के 19वें मैच में चेन्नई ने बैंगलोर को 69 रन से हराया। सीएसके के दिए 192 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए बैंगलोर टीम 20 ओवर में 9 विकेट खोकर 122 रन ही बना सकी। Also Read - पॉवर हिटिंग और अपने शॉट्स पर काफी मेहनत कर रही हैं वेलोसिटी की कप्तान दीप्ति शर्मा

रवींद्र जडेजा ने दिखाया ऑलराउंड प्रदर्शन Also Read - #RedTurnsBlue दिल्ली के खिलाफ मैच से पहले मुंबई इंडियंस के समर्थन में उतरी RCB

चेन्नई की जीत के नायक बने जडेजा, जिन्होंने आज के मैच में पूर्ण ऑलराउंडर खिलाड़ी की तरह प्रदर्शन किया। पहले तो जडेजा ने 28 गेंदो पर 62 रनों की धमाकेदार पारी खेली। फिर लक्ष्य का बचाव करते हुए जड्डू ने 4 ओवर में 13 रन देकर तीन विकेट लिए, जिसमें एबी डीविलियर्स और ग्लेन मैक्सवेल जैसे अहम बल्लेबाजों के विकेट शामिल हैं। इसके अलावा जडेजा ने अपनी बेहतरीन फील्डिंग का नमूना दिखाते हुए डैन क्रिस्चियन को रन आउट भी किया।

नहीं चले आरसीबी के बिग-3

अगर बैंगलोर टीम को 192 के लक्ष्य का पीछा करना था तो उसके लिए टीम के बिग-3 यानि कि कोहली, डिविलियर्स और मैक्सवेल का चलना जरूरी था। हालांकि आज के मैच में ऐसा नहीं हुआ। कोहली जहां चौथे ओवर में मात्र 8 रन बनाकर सैम कर्रन के शिकार बने। वहीं डिविलियर्स (4) और मैक्सवेल (22) जडेजा के ओवर में बोल्ड हुए।

सामने आई मध्य क्रम बल्लेबाजी क्रम की कमजोरी

शुरुआत चार मैचों में बैंगलोर टीम ने अपने शीर्ष क्रम बल्लेबाजों के दम पर जीत हासिल की लेकिन आज के मुकाबले में मैक्सवेल-डिविलियर्स के जल्दी आउट होने के बाद आरसीबी के मध्य क्रम की कमजोरी खुलकर सामने आई। टीम के पास डैन क्रिस्चियन के बाद ऐसा कोई खिलाड़ी नहीं है जो कि निचले क्रम में टिककर बल्लेबाजी कर सके या फिर मुश्किल समय में बड़े शॉट खेल पाए। और पूरी टीम 122/9 के स्कोर पर सिमट गई।