इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) का 14वां सीजन आज यानि कि 19 सितंबर को चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) और मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के मुकाबले के साथ यूएई में वापस लौट रहा है। चेन्नई और मुंबई, आईपीएल की दो सबसे सफल टीमें हैं ऐसे में इस मैच के रोमांचक होने की पूरी गारंटी है।Also Read - Lalit Modi ने अहमदाबाद फ्रेंचाइजी के यूके में बेटिंग कारोबार पर उठाए सवाल, 'शायद कोई नया नियम आ गया है'

अबू धाबी के शेख जायद स्टेडियम में होने वाले मुकाबले के लिए दोनों टीमों के फैंस बेहद उत्साहित हैं। आंकड़ों को देखें तो मुंबई को चेन्नई पर बढ़त मिली है। दोनों टीमों के बीच खेले गए 31 मैचों में मुंबई ने 19-12 से बढ़त बनाई है। वहीं पूर्व विंडीज दिग्गज ब्रायन लारा (Brian Lara) का भी मानना है कि मुंबई टीम चेन्नई के खिलाफ मुकाबले में भारी पड़ सकती है। Also Read - भारत-पाकिस्तान मैच के बाद खिलाड़ियों के भाईचारे से प्रभावित हैं मैथ्यू हेडन

लारा ने क्रिकेट डॉट कॉम के शो मैन वर्सेज मशीन में कहा, “बात ये है कि मुंबई इंडियंस ने चेपॉक में थोड़ी सी सफलता हासिल की है। मुझे लगता है कि इससे उन्हें वो आत्मविश्वास मिलेगा जिसकी उन्हें आवश्यकता है। वो यूएई वापस जा रहे हैं जहां उन्होंने आईपीएल 2020 जीता था। मेरे लिए, वो फेवरेट के तौर पर टूर्नामेंट शुरू करेंगे।” Also Read - IPL Team Auction Live: आईपीएल को मिली दो नई टीमें, जानें अहमदाबाद-लखनऊ फ्रेंचाइजी से BCCI को हुई कितनी कमाई ?

पूर्व कप्तान ने कहा, “उनका आत्मविश्वास सिर्फ इस बात से ऊंचा होने वाला है कि उनके पास यूएई में खेलने की अच्छी यादें हैं। मुझे लगता है कि वो सीएसके से बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं।”

सीएसके के लिए आईपीएल 2021 की अंक तालिका में दूसरे स्थान पर है। हालांकि, लारा को लगता है कि सीएसके के लिए पहले हाफ की सफलता को दोहराना मुश्किल होगा क्योंकि टूर्नामेंट अब यूएई में वापस आ गया है, जहां पिछले सीजन में सीएसके ने बेहद निराशाजनक प्रदर्शन किया था।

लारा ने कहा, “मई में जब टूर्नामेंट स्थगित गया तो वे (चेन्नई) सबसे नाखुश टीम रहे होंगे। उन्होंने कुछ खिलाड़ियों बदले हैं और मुझे लगता है कि उनके पास एक पूर्ण ऑलराउंड टीम है, खासकर मोइन अली के आने के बाद।”

उन्होंने कहा, “मुझे नहीं लगता कि उनका वही दबदबा होगा (जो पहले चरण में था), लेकिन निश्चित रूप से वो क्वालिफाई करने वाली टीमों में से एक होंगे। उन्हें पहले जैसी सफलता पाने के लिए यूएई में कड़ी मेहनत करनी होगी। मेरा मानना ​​है कि टीम अच्छी तरह से सेट है, टूर्नामेंट के पहले भाग में उन्हें जो सफलता मिली है, वो आगे बढ़ने में उनकी अच्छी खासी मेहनत लगेगी।”